लोकसभा चुनावों को लेकर देश का सियासी पारा सातवें आसमान पर है. अब तक तीन चरणों के लिए मतदान हो चुके हैं, जबकि चार चरणों के लिए मतदान होने बाकी हैं. इसी को लेकर राजनीतिक दल चुनाव प्रचार के लिए दिन-रात एक किये बैठे हैं.

Source: ndtv.com

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हैं. पीएम मोदी इस बार के लोकसभा चुनाव में भी वाराणसी से ही लड़ रहे हैं. इस दौरान उन्होंने आज अपना नामांकन भी दाखिल किया.

Source: hindustantimes

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी दौरे पर अब सवाल उठने भी शुरू हो गए हैं. ख़बरों के मुताबिक़ वाराणसी में मोदी के स्वागत में सड़कों की सफ़ाई करने में करीब 1.4 लाख लीटर पीने का पानी बहा दिया गया है.

Source: telegraphindia

बताया जा रहा है कि बुधवार रात वाराणसी की सड़कों को धोने के लिए लगभग 1.4 लाख लीटर पीने के पानी का उपयोग किया गया था. वहीं दूसरी ओर वाराणसी की 30 प्रतिशत से अधिक आबादी पीने के पानी के लिए तरस रही है.

Source: deccanchronicle

एक दिन पहले ही बुंदेलखंड में प्रधानमंत्री मोदी के आगमन पर बांदा की सड़कों को भी पानी से धोया गया था. बांदा में एक चुनावी सभा के दौरान मोदी अगले 5 साल तक घर-घर में पीने का पानी उपलब्ध कराने का आश्वासन भी देते दिखे थे.

Source: hindustantimes

वाराणसी नगर निगम के मुताबिक़ प्रधानमंत्री के वाराणसी आने पर उन्हें सड़कों को धोने के निर्देश मिले थे. इसके लिए नगर निगम के 40 पानी के टैंकर और 400 मजदूरों को इस काम के लिए लगाया गया था.

वहीं कांग्रेस ने आरोप लगाए हैं कि बीजेपी ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो पर 9 करोड़ रूपये ख़र्च किये हैं.

Source: telegraphindia

ख़बरों के मुताबिक़ रोड शो में प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत के लिए 7 प्रदेशों से 30 लाख रुपए ख़र्च करके ढाई सौ क्विंटल गुलाब के फूल भी मंगवाए गए थे.

Source: sentinelassam

इस दौरान चुनाव आयोग के नियमों की भी खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. बात चाहे नेताओं की बदज़ुबानी की हो या चुनावी ख़र्च की, राजनीतिक दल लगातार आदर्श चुनाव आचार संहिता की खुली अवहेलना कर रहे हैं.