बीते शुक्रवार को गैंगस्टर विकास दूबे, एनकाउंटर में मारा गया. यूपी एसटीएफ़ के अनुसार, विकास को उज्जैन से कानपुर लाया जा रहा था और रास्ते में उनकी गाड़ी पलट गई. ज़ख़्मी दूबे ने बंदूक छीनकर भागने की कोशिश की और पुलिस के हाथों मारा गया.


जिस स्थान पर विकास एनकाउंटर में मारा गया वहां जनता की भीड़ पूरे दिन जमा रही.

Source: Live Hindustan

India Today की रिपोर्ट के अनुसार, सड़क पर लगे ख़ून के दाग़ बारिश और फ़ोरेन्सिक जांच की वजह से मिट चुके थे. कानपुर जाते वक़्त हाईवे पर एसयूवी पलटी हुई थी जिसे बाद में हटाया गया.


विकास दूबे के एनकाउंटर का स्पॉट सेल्फ़ी स्पॉट बन गया है. आस-पास के गांवों से लोग वहां तस्वीरें खिंचवाने पहुंच रहे थे. हाईवे से गुज़र रहे लोग भी सेल्फ़ी लेने के लिए जमा हो रहे हैं.

Source: Khaleej Times

2 जुलाई को कानपुर में विकास दूबे को पकड़ने गई पुलिस की एक टीम के 8 लोग मारे गये थे.