शोधार्थियों के एक समूह का दावा है कि उन्होंने हम सभी का 'पैतृक निवास' ढूंढ लिया है, आज का Botswana.


Nature नामक जर्नल में छपी एक स्टडी के अनुसार, वैज्ञानिकों ने अफ़्रिका की घनी आबादी में से 1200 लोगों के सैंपल लिए और DNA के Mitochondria की जांच की. जो Genes लोगों के DNA में समय के साथ प्रिज़र्व्ड रहे उन पर शोध करके वैज्ञानिक इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि Zambezi नदी के दक्षिणी तट पर बसे Botswana से ही हमारे पूर्वज आए हैं.  

Source: The Print

हालांकि वैज्ञानिक इस नतीजे पर पहुंच चुके थे कि Modern Humans (Homo sapiens sapiens) 200,000 साल पहले अफ़्रिका में रहते थे पर ये नहीं पता थि कि अफ़्रिका में कौन सी जगह पर वो फले-फूले.


Anthropologist Vanessa Hayes ने एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा, 
'जो भी आज चल-फिर रहे हैं उन्हें अपने Mitochondrial DNA के ट्रेस उस ज़मीन पर मिल जाएंगे.'  

Source: Mashable

शोध के दौरान वैज्ञानिकों ने उस दौर के मौसमी हालात का भी पता लगाया. वैज्ञानिकों के मुताबिक़ Homo sapiens sapiens 70,000 सालों तक वहां रहे और जैस-जैसे मौसम बदला वो दो गुटों में बिखर गए. 130,000 साल पहले पहला ग्रुप उत्तरपूर्वी क्षेत्र की तरफ़ बढ़ा और दूसरा ग्रुप 110,000 साल पहले दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र की ओर.


Vanessa Hayes का कहना था कि इन गुटों ने जानवरों के झुंड का पीछा किया होगा. 

Modern Humans की खोपड़ी और अन्य फ़ॉसिल्स(लगभग 195,000 साल पुरानी) के आधार पर वैज्ञानिक ये मानते आ रहे थे कि हमारे पूर्वज, पूर्वी अफ़्रीका में रहते थे और नये शोध में ये कहा जा रहा है कि वो दक्षिण अफ़्रीका में रहते थे.  

इस शोध से इस आईडिया पर भी मुहर लगती है कि Modern Humans के पूर्वज अफ़्रीका में ही रहते थे और वहां से अलग-अलग जगह पहुंचे.


कुछ Anthropologists इस शोध से संतुष्ट नहीं है.