बचपन में आपने उस लकड़हारे की कहानी तो पढ़ी होगी, जिसकी कुल्हाड़ी समुद्र में गिर जाती है. फिर एक जलपरी उस ग़रीब को कुल्हाड़ी लौटा देती है. हक़ीकत में भी ऐसा कुछ हुआ है...

नॉर्वे के एक मछुआरे का फ़ोन नाव से पानी में गिर गया, उसके बाद जो हुआ, उससे पूरी दुनिया में ख़बरें बनीं.

एक महिला ने ग़लती से अपना फ़ोन पानी में गिरा दिया था, तभी एक Beluga Whale ने पानी के भीतर से उसे फ़ोन वापस लाकर दिया.

महिला अपना फ़ोन जेब में रख रही थी, तभी वो फिसल कर पानी में चला गया. थोड़ी देर में भीतर से एक मछली उस फ़ोन को मुंह में दबाए ऊपर लेकर आ गई और महिला को वापस लौटा दिया.

व्हेल के क्यूटनेस के अलावा एक और बात की चर्चा हो रही है. उस Beluga Whale के ऊपर एक मशीन लगी हुई थी, जिसे बाद में एक मछुआरे ने निकाला और उसके ऊपर 'Equipment St. Petersburg' लिखा था.

विशेषज्ञों के अनुसार, ये मशीन शोध के मकसद से नॉर्वे, डेनमार्क और ग्रीनलैंड के द्वारा नहीं लगाए गए हैं. वो मशीन रूस की बनाई हुई है और एक दोस्ताने बर्ताव वाले जानवर के ऊपर जासूसी के मक़सद से लगाया गया होगा. हालांकी इस बात को दावे के साथ नहीं कहा जा सकता.