पूर्व ब्रिटिश प्राइम मिनिस्टर विन्सटन चर्चिल की तस्वीरें अचानक ही गूगल सर्च रिज़ल्ट्स से गायब हो गईं. रविवार को लोगों ने जब “World War 2 Leaders” सर्च किया तो चर्चिल की तस्वीर के स्थान पर एक खाली बॉक्स दिखाई दिया.

Source: joshwho

इंटरनेट पर लोग इस बात से हैरान हो गए कि आखिर चर्चिल की तस्वीर गूगल से ग़ायब कैसे हो गई. सोशल मीडिया पर ढेर सारे यूजर्स ने गूगल सर्च रिज़ल्ट्स में आ रही इस खामी को लेकर सवाल उठाए.

सबसे ज़्यादा हैरानी की बात ये थी कि अडोल्फ़ हिटलर और स्टालिन जैसे लीडर्स की तस्वीरें तो नजर आ रही थीं, लेकिन चर्चिल का बस नाम लिखा था और उनकी तस्वीर के स्थान पर एक खाली बॉक्स दिखाई पड़ रहा था.

लोगों ने सोशल मीडिया पर इससे जुड़े स्क्रीनशॉट्स भी डालें. तमाम यूज़र्स इसे लेकर सवाल खड़े किए और अपना ग़ुस्सा भी ज़ाहिर किया. जिसके बाद इस 'ग्लिच' को गूगल की ओर से इसे फ़िक्स कर दिया गया है.

हालांकि, लोग सवाल उठा रहे हैं कि आखिर सिर्फ़ चर्चिल की तस्वीर ही क्यों गायब हुई. दरअसल, अमेरिका में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड मौत को लेकर ब्रिटेन में भी प्रर्दशन हो रहे हैं. इन प्रदर्शनों में औपनिवेशिक काल के नेताओं की मूर्तियों को नुक़सान पहुंचाया जा रहा है. लंदन के पार्लियामेंट स्क्वॉयर में स्थित महात्मा गांधी और विंस्टन चर्चिल की मूर्तियों को नुकसान पहुंचाया गया था. जिसके बाद लंदन कार्यालय के मेयर द्वारा महात्मा गांधी, नेल्सन मंडेला और विंस्टन चर्चिल की प्रतिमाओं को हटाया जा रहा है.

वहीं, इस मामले पर गूगल का कहना है कि ये जानबूझकर नहीं किया गया है. सर्च इंजन का कहना है कि ऐसे पैनल में फ़ोटो अपने आप अपडेट और क्रिएट होती हैं. ऐसे में हो सकता है कि तस्वीर किसी अपडेट के दौरान गायब हुई हो. गूगल ने इसे लेकर माफ़ी भी मांगी है. इसके साथ ही कहा, एक नॉलेज ग्राफ़ अपडेट के दौरान मिसिंग होने के चलते नाम तो दिखा लेकिन फ़ोटो नहीं दिख रही थी. उन्होंने बताया कि ये ऑटोमैटिक जेनरेटेड नॉलेज ग्राफ़ है और केवल चर्चिल से जुड़े डेटा के साथ छेड़छाड़ नहीं की गई. इसकी सही वजह जानने की कोशिश की जा रही है.