दिसंबर 2019 में जो ठंड पड़ी थी उसने एक सदी का रिकॉर्ड तोड़ दिया था. दिल्ली और उत्तर पूर्व के कई शहरों में दिन का तापमान ही 6 डिग्री हो गया था.


नये साल का पहला दिन यूं तो दिल्लीवालों के लिए कम ठंड और गुनगुनी धूप लेकर आया पर ये हाल कुछ ही दिनों का है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक़, पश्चिमी डिस्टरबेंस की वजह से जनवरी में बारिश होगी और तापमान कम रहेगा. रविवार तक मौसम साफ़ रहेगा पर 6 जनवरी और 8 जनवरी के बीच भारी बारिश और बर्फ़बारी की संभावना है.


Skymet के अनुसार, जनवरी की सर्दियां दिसंबर से ज़्यादा भयानक होगी. रात के गिरते तापमान से ज़्यादा दिन का गिरता तापमान परेशानी का सबब बनेगा.

Source: Economic Times

दिसंबर में देश के कुछ हिस्सों में तापमान 1 डिग्री चला गया था. दिसंबर में पड़ी दिल्ली की सर्दी ने 109 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया था.