उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती ज़िले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां 22 साल की एक महिला को उसकी 5 साल की बेटी के सामने ही पति और ससुराल वालों ने ज़िन्दा जला दिया.


बीते शुक्रवार को देर रात को इस वीभत्स घटना को अंजाम दिया गया. Times of India की रिपोर्ट के अनुसार, पीड़िता के पिता का आरोप है कि उसकी बेटी को पति नफ़ीस ने पर फ़ोन पर 6 अगस्त को तीन तलाक़ दिया.

women burnt alive by In-laws in Uttar Pradesh
Source: NDTV

पीड़िता के पिता ने शिकायत में कहा,


'सईदा शिकायत करने गई पर पुलिस ने शिकायत नहीं लिखी. उसे घर भेज दिया और पति के आने का इंतज़ार करने को कहा. 15 अगस्त को जब नफ़ीस वापस आया तो पुलिस ने दंपत्ति को बुलाया, बातचीत की और सईदा को पति के साथ रहने को कहा.'

Triple Talaq
Source: DNA

सईदा की बेटी, फ़ातिमा ने पुलिस को बताया,


'शुक्रवार दोपहर को पापा नमाज़ पढ़कर लौटे और मम्मी से चले जाने को कहा क्योंकि उन्होंने तलाक़ दे दिया है. इसके बाद बात बिगड़ गई.'

मेरे दादा, अज़ीज़ुल्लाह, दादी हसीना, आंटी गुड़िया और नादिरा आए. मम्मी को पापा ने बालों से पकड़ा और पीटा. नादिरा और गुड़िया ने केरोसीन डाला, दादा और दादी ने माचिस जलाई.

- फ़ातिमा

सईदा के भाई रफ़ीक़ फ़ातिमा को थाने ले गए जहां उसने पूरी घटना बताई.

किसी को नहीं पकड़ा है. ज़रूरत पड़ने पर मैं सुप्रीम कोर्ट तक जाऊंगा.

- रफ़ीक़

Bride Burnt in India
Source: Mid Day

बीते शनिवार को पुलिस ने नफ़ीस और उसके घरवालों के खिलाफ़ FIR दर्ज की. सईदा की बॉडी को ऑटोप्सी के लिए भेज दिया गया है.


हम उम्मीद करते हैं कि आरोपियों को सज़ा मिले और साथ ही पुलिस पर FIR न लिखने के लिए भी कार्रवाई हो.