शेक्सपियर ने कहा था 'नाम में क्या रखा है', लेकिन क्या सच में आपको भी लगता है कि नाम में क्या रखा है? बचपन में पक्का आपने एक बार तो सोचा ही होगा कि आपका नाम कुछ और होता. मम्मी-पापा के पास नाम बदलने की डिमांड को लेकर भी गए होंगे और थप्पड़ के साथ वापिस कमरे में आ गए होंगे.   

मगर सब के साथ ऐसा नहीं होता है लक्ष्मन, कुछ लोग अपना नाम बदल ही लेते हैं. जैसे बंगाल के पूर्वी मेदिनीपुर जिले के बारांकुआ गांव की रहने वाली अनामिका मज़ूमदार ने बदला है. ख़ैर, इनके नाम में थोड़ा ट्विस्ट है क्योंकि अब इनका नाम हो गया है, 'Supreme Imperium'

इंटरनेट की जनता को जैसे ही ये पता चला, वो लग गए अपने काम-धंधे पर! देखिए, ज़रा: