कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए, केरल ने राज्य भर में केवल महिला Covid -19 बाइक गश्त इकाई को तैनात करने का निर्णय लिया है.

इस पहल की शुरुआत अप्रैल के महीने में केरल के त्रिशूर शहर से हुई थी. शहर में पुलिस के एक हिस्से के रूप में केवल महिला बाइक दस्ते का गठन किया गया था ताकि लॉकडाउन को सबसे प्रभावी तरीक़े से लागू किया जा सके. इन महिला पुलिस कर्मियों को क्वारंटीन केंद्रों की निगरानी, लॉकडाउन प्रतिबंधों को लागू करना और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन न करने वाले लोगों को सज़ा देना के लिए तैनात किया गया था.

kerala
Source: thefederal

पुलिस द्वारा प्रयोग के रूप में शुरू की गई ये महिला बाइकर्स की दस्त काफ़ी सफ़ल रही जिसके बाद राज्य के पुलिस महानिदेशक लोकनाथ बेहरा ने इस सेवा को पूरे राज्य में लागू करने का निर्णय लिया है.

इन साहसी राइडर्स ने दिखा दिया कि महिला शक्ति क्या होती है. वे क्वारंटीन में रह रहे लोगों के साथ लगातार संपर्क में हैं और उनके आत्मविश्वास को बढ़ा रही हैं, साथ ही वे उल्लंघनकर्ताओं के साथ सख़्त भी हैं. उन्होंने कुछ दिनों में कई मामले दर्ज किए हैं. वे सहानुभूति और करुणा के साथ स्थिति को संभालती हैं.

                    - DGP लोकनाथ बेहरा

वो आगे कहते हैं की महिलाओं की ऐसी और टीम अन्य जिलों में भी शामिल की जाएगी. लॉकडाउन के नियमों के साथ वो महामारी फैलने से भी बचाएंगे.

women bike squad
Source: hindustantimes

देश में कोरोना वायरस का पहला मामला जनवरी में केरल राज्य से ही आया था.