ब्रिटिश शोधकर्ताओं ने दुनिया के सबसे पुराने टैटू की खोज की है. बताया जा रहा है कि ये आलंकारिक टैटू मिस्त्र की 5 हज़ार साल पुरानी Mummies के ऊपर मिले ये हैं. ब्रिटिश संग्रहालय के अनुसार, मेल Mummy की बांह पर जंगली बैल और भेड़ बना हुआ है, जबिक फ़ीमेल Mummy पर लाइनें और S शेप का टैटू देखा गया.

वहीं जहां एक ओर मेल टैटू पुरुष के साहस और हिम्मत के प्रतीक को दर्शाता है, तो वहीं फ़ीमेल टैटू का मतलब है शक्तिशाली और जादुई ज्ञान. काफ़ी पुरानी होने की वजह से ये कलाकृतियां थोड़ी धुंधली दिखाई दे रही थीं, लेकिन इसके बावजदू Museum और Oxford University की फै़कल्टी ने फ़ोटोग्राफ़ी के ज़रिए इन्हें कैमरे में कैद कर लिया.

British Museum के Curator Of Physical Anthropology ने Reuters से बातचीत के दौरान बताया कि ये वास्तव में टैटू के उपयोग की नई जानकारी प्रदान करता है. आगे बताते हुए वो कहते हैं कि ये टैटू Arms के ऊपरी हिस्से यानि, कंधे के पास बने हुए थे, जिससे कि वो अधिक से अधिक दिखाई पड़ सके.

इस खोज से पहले पुरातत्वविदों का मानना था कि मिस्त्र में टैटू सिर्फ़ महिलाओं की बॉडी पर ही बनवाया जाता था, लेकिन इस नए शोध से साफ़ हो गया कि उस समय में पुरुष भी टैटू बनवाते थे.

बता दें, इससे पहले सबसे पुराना जीवित टैटू 1991 में Italian Alps में पाया गया था, जो कि रेखा गणित या ज्यामिति यानि कि Geometric डिज़ाइन का था.

Video Source : Above Science

Source : BBC