कहते हैं कि 'जिसका काम उसी को साजे'. इसका मतलब होता है कि हर काम हर किसी के बस की बात नहीं. पर कुछ लोग इस बात को नहीं समझते. इसलिये वो ऐसे काम में हाथ अज़माने लगते हैं, जो उनके लिये बना ही नहीं है. जैसे हमारे कुछ दिग्गज़ खिलाड़ी. मैदान पर अपनी ज़बरदस्त परफ़ॉर्मेंस से दिल जीतने वाले कुछ खिलाड़ियों ने सिनेमाजगत में हाथ आज़माया. खिलाड़ियों को लगता था कि खेल की तरह फ़िल्म इंडस्ट्री में शोहरत पा लेंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

क्रिकेट से सिनेमा में क़िस्मत आज़माने वाले इन लोगों को करारी हार का सामना करना पड़ा. चलिये जानते हैं कि कौन हैं वो खिलाड़ी जिनका एक्टर बनने का सपना अधूरा रह गया.   

ये भी पढ़ें: अपने स्टाइल से बचपन में भी छक्के छुड़ा देते थे ये 12 भारतीय क्रिकेटर्स 

1. सलिल अंकोला 

'सलिल अंकोला' एक तेज़ गेंदबाज़ थे. 'सलिल' ने 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ़ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था. टेस्ट क्रिकेट के अलावा उन्होंने एकदिवसीय मैच भी खेले. हांलाकि, क्रिकेट में उन्हें ख़ास पहचान नहीं मिली. इसके बाद उन्होंने बॉलीवुड की ओर रुख़ किया. 'सलिल', 'पिता', 'चुरा लिया है तुमने' और 'कुरुक्षेत्र' जैसी फ़िल्मों में नज़र आये, लेकिन अफ़सोस यहां भी वो चल नहीं पाये.

सलिल अंकोला
Source: indianexpress

2. सुनील गावस्कर 

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कैप्टन और ओपनर 'सुनील गावस्कर' मराठी फ़िल्म 'सावली प्रेमाची' से एक्टिंग की दुनिया में क़दम रखना चाह था. पर अफ़सोस फ़िल्म नहीं चली. इसके बाद वो कॉमेडी फ़िल्म 'मालामाल' में गेस्ट के तौर पर दिखाई दिये थे.  

सुनील गावस्कर
Source: mensxp

3. संदीप पाटिल 

'संदीप पाटिल' को उनकी आक्रामक बल्लेबाज़ी के लिये जाना जाता है. वो 1983 वर्ल्डकप चैंपियन भी थे. क्रिकेट में धमाकेदार पारी खेलने वाले 'संदीप पाटिल' ने फ़िल्म 'कभी अजनबी थे' से एक्टर बनने का सपना देखा, लेकिन दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि न फ़िल्म चली और न वो.

संदीप पाटिल
Source: inextlive

4. विनोद कांबली 

क्रिकेटजगत के दिग्गज़ खिलाड़ी 'विनोद कबांली', 'अनर्थ' और 'पल पल दिल के साथ' जैसी फ़िल्मों में बतौर एक्टर काम कर चुके हैं.  

विनोद कांबली
Source: amazonaws

5. सलीम दुर्रानी 

क्रिकेट के मैदान में सबके 'छक्के' छुड़ाने वाले 'सलीम दुर्गानी' ने 1973 में आई फ़िल्म 'चरित्र' में लीड एक्टर के तौर पर काम किया था. इस फ़िल्म में उनके साथ 'परवीन बॉबी' भी थीं. 

सलीम दुर्रानी
Source: jagranimages

6. अजय जडेजा 

मैच फ़िक्सिंग में नाम जुड़ने के बाद 'अजय जडेजा' का बना बनाया करियर तबाह हो गया था. इसके बाद उन्होंने 'खेल' फ़िल्म से हिंदी सिनेमा में क़िस्मत आज़माई, लेकिन वहां भी नहीं चल पाये.

अजय जडेजा
Source: wikimedia

7. ब्रेट ली 

ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज़ 'ब्रेट ली' 'तनिष्ठा चटर्जी' के साथ फ़िल्म 'अनइंडियन' में मुख्य भूमिका में थे. बाक़ी क्रिकेटर्स की तरह ब्रेट ली की फ़िल्म भी पिट गई.

ब्रेट ली
Source: scroll

8. कपिल देव  

1983 में देश को वर्ल्डकप जिता कर ख़ुशियां देने वाले पूर्व कप्तान 'कपिल देव' भी कई बॉलीवुड फ़िल्मों का हिस्सा रह चुके हैं. वो 'चैन खुली की मैन खुली' और 'इकबाल' जैसी फ़िल्मों में नज़र आ चुके हैं, लेकिन किसी भी फ़िल्म में उन्होंने लीड रोल नहीं किया था.   

कपिल देव
Source: wikimedia

ये भी पढ़ें: ग़रीबी और ग़ुमनामी में जी रहे ये 7 क्रिकेटर्स, कभी इंटरनेशनल क्रिकेट के दिग़्ग़ज खिलाड़ी थे 

एक्टर्स का काम एक्टर्स को करने दो और क्रिकेटर्स का काम क्रिकेटर्स करें. इसी में ही सबकी भलाई है.