लगभग पिछले एक दशक से हम सुनते आ रहे हैं कि ग्लोबल वॉर्मिंग से प्रकृति को काफ़ी नुकसान हो रहा है. बड़े-बड़े बर्फ़ीले पहाड़ पिघल रहे हैं और ऐसी घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं. ये तस्वीरें देख कर आप अनुमान लगा सकते हैं कि पर्यावरण में अत्यधिक गर्मी की वजह से कैसे एक विशालकाय ग्लेशियर पिघल जाता है.

1) एक 4 मील चौड़ी आइसबर्ग ने ग्रीनलैंड में हेल्हेम ग्लेशियर को तोड़ दिया


2) समुन्दर में बढ़ती गर्मी से पिघलते पोलर आइस शीट्स के बारे में पता करने के लिए NASA ने Oceans Melting Greenland (OMG) नाम का एक प्रोजेक्ट लॉन्च किया है


3) जैसे-जैसे धरती गर्म होती जा रही है और ग्लेशियर्स से बर्फ़ पिघल रही है, समुद्र का जल स्तर बढ़ता ही जा रहा है


4) ग्रीनलैंड में ग्लेशियर्स का पिघलना पर्यावरण असुंतलन के दुष्प्रभाव की जीती-जागती तस्वीर है


5) ग्लेशियर की बिगड़ी हुई स्थिति तो देखिये


6) 40,000 फ़ीट की ऊंचाई पर, NASA के अनुसंधान विमान ने ग्रीनलैंड की इस बर्फ़ीली चोटी की तस्वीर खींची


7) विमान ने पूर्वी ग्रीनलैंड की चट्टानों की तस्वीरें भी लीं, जो धीरे-धीरे ग्लेशियर्स द्वारा धूल में मिलते जा रहे हैं


8) सूरज की किरणों से चमकता हुआ हेल्हीम ग्लेशियर. गर्मियों में सूरज सिर्फ़ कुछ घंटों के लिए ही डूबता है हर दिन

9) बढ़ते हुए समुद्री तट से दुनिया भर के द्वीपों, उद्योगों और नीचे बसे शहरों को ख़तरा है


10) पूरी तरह से ध्वस्त होने के बाद ग्लेशियर Fjord में एक आइसबर्ग तैरता है

Source: Indiatimes