जुगाड़ की सबसे अच्छी बात ये होती है कि वो पैसे और मेहनत दोनों की बचत करता है और ये देखने में भी कूल लगता है. जुगाड़ की पढ़ाई भी नहीं होती, फिर भी देश में जुगाड़ुओं की कोई कमी नहीं है. एक ढूंढोगे, हज़ार मिलेंगे. आज हम आपको कुछ नए जुगाड़ुओं की प्रतिभा से रूबरू कराएंगे. देखते हैं इन्होंने क्या झंडे गाड़े हैं.

1.इस बैट्री से पूरे गांव को बिजली सप्लाई हो रही है.

2. बस इस पानी से बिजली बनानी रह गई है.

3.भाई साहब उड़ते पाइप पर बैठ गए.

4. एक तरफ़ है घरवाली, एक तरफ़ बाहर वाली.

5. धोने के लिए कुछ भी करेगा.

6. करना क्या चाहते हो?

7. गीज़र ख़रीदने के पैसे नहीं थे इसलिए ये जुगाड़ लगाया.

8. क्योंकि जीव हत्या पाप है.

9. सस्ती और टिकाऊ F1 कार.

10. दिमाग़ लगाईए, पानी बचाइए.

11. इसे कहते हैं आम के आम, गुठलियों के भी दाम.

12. खाने-पीने का पूरा इंतज़ाम है.

13. बिना म्युज़िक के काम करने में मज़ा नहीं आता.

14. EMI पर गाड़ी ख़रीदोगे तो ऐसा ही होगा.

15. अभी भी गाड़ी में दो लोगों के बैठने की जगह खाली है.

16. क्योंकि दोनों भाईयों ने कूलर के लिए बराबर पैसे दिए थे.

17. चलती का नाम गाड़ी.

18. ये रेल बिहार से दिल्ली जा रही होगी.

19. ग़रीबी भी ज़िंदगी में बहुत पाठ पढ़ाती है.

20. ठेकेदारों का बाथटब.

21. संजीव कपूर ने कहा था, 'सब्ज़ी को धीमी आंच पर पकाना'.

22. ये जुगाड़ तो आपने भी किया होगा.

23. Legend लेवल का जुगाड़.

24. इन्होंने AC की तेसी कर डाली.

25. पुराने कपड़े बहुत काम के होते हैं.

देश विज्ञान के क्षेत्र में तरक्की करे या न करे, जुगाड़ के क्षेत्र में तीव्र गति से आगे बढ़ रहा है. सरकार को स्कूलों में जुगाड़ की Classes देनी चाहिए, बहुत स्कोप है.