मान लीजिए लॉकडाउन लगने या ड्राई डे से पहले ही आपने बोतल टाइट व्यवस्था कर ली हो या एग्ज़ाम में आप चार सवाल पढ़कर गए हों, और वही पूछ लिए जाएं या फिर वीकेंड से पहले के दो दिन भी आपको किसी बात की छुट्टी मिल जाए. ऐसे में आप ख़ुद को लकी मान लेंगे न. हां, मानेंगे ही. अपन जैसों के लिए इतना लक ही मौज पैदा कर देता है. मगर हम आपको जिस ख़ुशनसीब आदमी के बारे में बताने जा रहे हैं, उस पर तो क़िस्मत छप्पर फाड़ कर मेहरबान है. इतनी कि बंदा 7 बार मौत को भी मात दे चुका है. (दुनिया का सबसे लकी इंसान)

Frane Selak
Source: ripleys

ये भी पढ़ें: बुरी क़िस्मत हमेशा रुलाकर नहीं, बल्कि हंसा कर भी जाती है. यही बता रही हैं ये 30 तस्वीरें

शख़्स का नाम है फ़्रेक सेलैक (Frane Selak). उम्र क़रीब 90 साल है और ये अब तक 7 बार मौत के मुंह में जाकर बाहर आ चुके हैं. इतना ही नहीं, जनाव करोड़ों रुपये की लॉटरी भी जीत चुके हैं. मतलब क़िस्मत इन पर इतनी मेहरबान है कि जब देखो इन्हें चूमे डाल रही. यही वजह है कि इन्हें 'दुनिया का सबसे लकी इंसान' (The luckiest man in the world) कहा जाता है.

7 बार मौत को मात देकर बना दुनिया का सबसे लकी इंसान

फ़्रेन क्रोएशिया में साल 1929 में पैदा हुए थे. उनके जीवन में पहला हादसा 1962 में हुआ. बताते हैं कि फ़्रेन जिस ट्रेन से यात्रा कर रहे थे, वो अचानक पटरी से उतर गई और पास की नदी में जा गिरी. ये नदी सर्दी की वजह से पूरी तरह जमी हुई थी. इस ट्रेन एक्सीडेंट में 17 यात्रियों की मौत हो गई थी. मगर उनका बस एक हाथ फ़्रैक्चर हुआ और हाइपोथर्मिया का सामना करना पड़ा.

अगले साल, वो एक विमान में सवार था जो दुर्घटनाग्रस्त हो गया और 19 लोगों की मौत हो गई. हालांकि, प्लेन क्रैश के समय फ़्रेन इमरजेंसी गेट से बाहर निकल गए थे और एक फसल के ढेर पर जा गिरे थे.

plane
Source: bolnews

फिर 1966 में वो एक बस में सवार थे जो सड़क से फिसल कर एक नदी में गिर गई, जिसके चलते 4 लोग डूब गए. मगर फ़्रेन को बस छोटी-मोटी चोट आईं और वो तैरकर बाहर आ गए.

साल 1970 में वो जिस कार में सफ़र कर रहे थे, उसमें आग लग गई. लेकिन वो चलती गाड़ी से जैसे ही बाहर निकले, कुछ ही सेकेंड में ईंधन टैंक में विस्फोट हो गया.

car
Source: lifebuzz

साल 1973 में एक बार फिर फ्रेन की कार दुर्घटनाग्रस्त हुई. इस बार भी उनकी कार में आग लगी थी. और हर बार की तरह इस बार भी कार में लगी आग फ़ेन को कोई नुकसान नहीं पहुंचा पाई थी. हालांकि इस हादसे में उनके बाल ज़रूर जल गए थे.

1995 में, वो सड़क पर एक बस से टकरा गया था, लेकिन उसे केवल मामूली चोटें आईं और एक बार फिर वो सही-सलामत था. 

luckiest man
Source: thuppahis

1996 में, जब उनकी गाड़ी एक पहाड़ों पर एक ट्रक से जा टकराई. उनकी कार 300 फीट नीचे खाई में जा गिरी. मगर फ़्रेन को कुछ नहीं हुआ. क्योंकि, पहाड़ी से गिरते समय फ्रेन एक पेड़ पर अटक गए थे, जिस कारण उनकी जान बच गई.

मतलब ग़ज़ब किस्मत वाला आदमी है ये. मौत को सिर्फ़ हराया ही नहीं, बल्कि थपड़िया भी दिया. हालांकि, सिर्फ़ इन हादसों में बचना ही फ़्रेन को दुनिया का सबसे लकी आदमी नहीं बनाता है. फ़्रेन तो लॉटरी के मामले में भी तगड़ी किस्मत लेकर पैदा हुए हैं. 

साल 2003 में लगी लॉटरी

lottery
Source: allthatsinteresting

फ़्रेन ने साल 2003 में पहली बार लॉटरी का एक टिकट ख़रीदा था, और पहली ही बार में वे लॉटरी जीत गए थे. उन्हें क़रीब 8 करोड़ रुपये का इनाम मिला था. उन्होंने इन पैसों से दो घर और एक बोट ख़रीदी थी. बता दें, फ़्रेन ने बाद में अपनी दौलत दोस्तों और रिश्तेदारों को बांट दी थी. उसके बाद वो ऐसे ही रह रहे हैं. 

वाक़ई ये शख़्स दुनिया का सबसे लकी इंसान है.