छोटा बच्चा जानकर न कोई आंख दिखाना रे...

ये बात सच है आजकल बच्चे, बच्चे नहीं रहे हैं वो ऐसे कारनामे कर रहे हैं कि बड़ों को मात दे रहे हैं. हाल ही में हुबली की रहने वाली ओजल नलावडे ने जो कारनामा किया है उसके बाद तो ये बात सच ही साबित होती है.

ओजल महज़ 12 साल की हैं और इन्होंने इतनी छोटी सी उम्र में आंखों में पट्टी बांधकर स्केट करते हुए 400 मीटर की दूरी तय की. इसके चलते ओजल का नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया है. 

Ozal Nalawade

ओजल ने अपनी उपलब्धि के बारे में बताया,

मुझे बहुत ख़ुशी है कि मेरा नाम गिनीज़ बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स में दर्ज हुआ है. इसका श्रेय मेरे पेरेंट्स और कोच को जाता है, जिन्होंने मुझ पर विश्वास बनाए रखा और मुझे प्रोत्साहित किया.

ओजल के स्केटिंग कोच सूर्यवंशी ने कहा,

ओजल रोज़ सुबह नियमित रूप से प्रैक्टिस करती हैं क्योंकि आंखों में पट्टी बांधकर स्केटिंग करना आसान नहीं है. ओजल का नाम एश‍िया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स, इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स और कई अन्‍य कैटेगरी में भी 8 बार शामिल हो चुका है.
Skater

ओजल के पिता ने अपनी ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए बताया,

हमें ओजल पर बहुत गर्व है. वो अकसर ही स्केटिंग के लिए इच्छा जताती थी. मैंने उसको वीकेंड्स और छुट्टियों पर स्केटिंग करते देखा और वो इसे बहुत ही पैशन से करती है. तब हमने इसका दाखिला स्केटिंग के एडवांस कोर्स में करा दिया. आज हमारी बेटी ने हमारा सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है.

गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड्स के अध‍िकारियों का कहना है

ओजल ने पूरे देश को सम्मानित कराया है. अपने जज़्बे के चलते ओजल दुनिया की सबसे तेज़ ब्लाइंडफ़ोल्ड स्केटर बन गई हैं.     

Women से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.