दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा की बागडोर अब महिलाएं करेंगी. इसका नज़ारा आपको दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर देखने को मिल जाएगा. दरअसल, एयरपोर्ट से निकल कर महिला यात्री अपने घर तक सुरक्षित पहुंचे उसके लिए 'Women With Wheels' नाम की कैब सर्विस शुरू की गई है. इस कैब को महिला ड्राइवर चलाएंगी, जो आपको एयरपोर्ट के पिलर नम्बर-16 के पास मिलेगी.

Women With Wheels

कैब के लिए इन सभी महिला ड्राइवर्स को आज़ाद फ़ाउंडेशन नाम के एनजीओ से नियुक्त किया गया है. इस कैब में सिर्फ़ महिलाओं को ही आने की अनुमति है, पुरूष तभी आ सकते हैं जब वो किसी महिला के साथ हों.

Women With Wheels

ये कैब सर्विस सखा कंसल्टिंग विंग्स द्वारा चलाई जा रही है, जो कि दिल्ली-एनसीआर के अलावा जयपुर और कोलकाता में भी महिला यात्रियों को कैब सर्विस देती है. एक हालिया रिपोर्ट में, कंपनी के सीईओ ने बताया,

कंपनी के पास अभी कुल 10 ड्राइवर्स हैं, जो 20 कारें हैं, जल्द ही इनकी संख्या और भी बढ़ाई जाएगी.

इस कैब सर्विस का उद्देश्य महिलाओं की सुरक्षा और सशक्तिकरण है. इस कैब सर्विस का उद्देश्य उन महिलाओं को घर तक सुरक्षित पहुंचाना है, जो देर रात एयरपोर्ट से घर जा रही होती हैं. वो पुरूष ड्राइवर के साथ जाने में असहज होती हैंं इसलिए, उन्हें ये सुविधा दी गई है ताकि महिलाएं देर रात में भी सुरक्षित घर पहुंच सकें. इस सर्विस में सभी महिलाएं आर्थिक रूप से कमज़ोर हैं. जब वो Women With Wheels को जॉइन करती हैं तो उन्हें प्रशिक्षण के बाद सैलेरी दी जाती है.

Women With Wheels
Source: mygoodtimes

अरविंद वाडेरा ने TheIndianExpress को बताया,,

सभी कैब में एक पैनिक बटन है, जिसका इस्तेमाल महिला ड्राइवर या कम्यूटर असुरक्षित महसूस करने पर कर सकती हैं. इसे दबाते ही 24Response नामक कंपनी को एक आपातकालीन संकेत जाएगा और उस कंपनी से नियुक्त लोग आपके पास 30 मिनट के अंदर पहुंच जाएंगे. इस कैब के रेट अन्य कैब के ही बराबर हैं.
Women With Wheels
Source: curlytales

तो अब देर रात होने पर घबराने की ज़रूरत नहीं है, आपको सुरक्षित घर पहुंचाएंगी Women With Wheels की कैब ड्राइवर. News और

Women से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.