मुझ जैसे लोग कुत्ता इसलिए नहीं पालते क्योंकि उन्हें दिनभर में दो-तीन बार टहलाना पड़ता है. अब, जब हम ख़ुद नहीं घुमक्कड़ी करते तो काहे कुत्ता टहलाने निकलेंगे. फ़िर भी ऐसे बहुत से लोग हैं, जिन्हें इस वफ़ादार जानवर को पालना अच्छा लगता है. सही भी है क्योंकि ये वाक़ई में बेहद प्यारे जानवर होते हैं. यही वजह है कि लोग इन्हें फ़ैमिली मेंबर सा ट्रीट करते हैं.  

अगर आप नोटिस करेंगे तो पाएंगे कि ये पालतू डॉग एकदम घर के मालिक सरीखा व्यवहार भी करते हैं. वो तो शुक्र है कि कोई क़ानून नहीं बना, वरना ये कबका आपकी आधी जायदाद में हिस्सा बंटवा चुके होते. अब चूंकि ये डॉग और कुछ नहीं कर सकते है तो ये पर्सनल स्पेस की धज्जियां उड़ा कर ख़ुश हो लेते हैं.   

अगर यक़ीन न हो, तो फिर इन तस्वीरों में देख लें...  

1. तू तो कल आया है बे, ये बरसों से मेरी सीट है  

2. अपन को भी बैठने की जगह मंगता  

3. उम्म्माह...  

4. न ख़ुद कुछ करुंगा तो तुझे करने दूंगा  

5. कुछ तो रहम करो ग़रीब पे  

6. अबे, मुझे बिल्लो बुलाते हैं पिलो नहीं  

7. अकेले-अकेले क्या चल रहा है   

8. मैं तो बस निन्नी करा रहा हूं  

9. हमको बाहर ले जाते और ख़ुद घर के अंदर  

10. अबे घबराने का नहीं, अपन तो बस तेरे से दोस्ती करना मंगता  

11. अबे उठा जा, इसके पहले कि मैं उठ जाऊं  

12. जम हम हैं तो मास्क की क्या ज़रूरत  

13. ये तो आराम का मामला है  

14. देख मेरा फ़ेस लंबा है या तेरा  

15. डॉगी को फ़ेस पसंद है  

16. बड़ी गाड़ी लो, नहीं तो झेलो  

17. तेरी मोहब्बत तो वाक़ई सिर चढ़कर बोल रही है  

18. मुझे इसे कंट्रोल करने की ड्यूटी मिली है  

19. आज तेरा भाई तेरे साथ सोएगा  

20. अबे ये क्या बेहूदगी है यार  

कुछ भी हो, पर इन डॉग्स की हरकतें हैं तो बहुत क्यूट.

Source: Inspiremore