कोरोना का कहर पूरी दुनिया में जारी है. दुनियाभर के अस्पतालों और क्वारन्टीन सेंटर्स में कोरोना के मरीज़ों का इलाज किया जा रहा है. जिनके लक्षण ज़्यादा सिरियस नहीं हैं, उन्हें घर पर ही क्वारन्टीन करने की सलाह दी जा रही है. क्वारन्टीन सेंटर का नाम भले ही आपने कोरोना महामारी के दौरान सुना हो, लेकिन आज से क़रीब 300 साल पहले भी लोगों को महामारी से बचाने के लिए इन सेंटर्स का इस्तेमाल हो चुका है. आइए जानते हैं कब, कहां और कैसे?

दुनिया का सबसे पहला क्वारन्टीन सेंटर

Dubrovnik Historical Quarantine Centre
Source: wtop

दुनिया का सबसे पहला क्वारन्टीन सेंटर बनाया गया था क्रोएशिया में. यहां के Dubrovnik शहर में  Lazareti Complex नाम की इमारत का निर्माण हुआ था. दरअसल, 17वीं सदी में इस कॉम्प्लेक्स को संक्रामक बीमारियों से पीड़ित लोगों को आबादी से दूर रखने के लिए खोला गया था, ताकि स्वस्थ लोगों को कुष्ठ, प्लेग और हैजा जैसी महामारियों से बचाया जा सके.

ये भी पढ़ें: इतिहास का वो युद्ध जो एक 'कुत्ते' की वजह से लड़ा गया था, जानते हो ये किन दो देशों के बीच हुआ था?

Dubrovnik यूरोप का एक प्रमुख बंदरगाह था

Dubrovnik जिसे मध्य युग में Ragusa के नाम से जाना जाता था, यूरोप का एक प्रमुख बंदरगाह था. यहां दूसरे साम्राज्यों से व्यापारी जहाज़ और सड़क मार्ग के ज़रिये व्यापार करने आते थे. 17वीं सदी के यूरोप में संक्रामक बीमारियों से पीड़ित लोगों को आबादी से दूर रखने के लिए लकड़ी की झोपड़ियां बना कर उन्हें वहां रखा जाता था. इन झोपड़ियों को उनके जाने के बाद जला दिया जाता था.

लोगों को बचाने के लिए बनाया क्वारन्टीन सेंटर

Dubrovnik  Quarantine Centre
Source: godubrovnik

17वीं शताब्दी में जब Dubrovnik में कई प्रकार की संक्रामक बीमारियां फैलने लगीं, तो नगर प्रशासन ने एक क्वारन्टीन सेंटर बनाया. इनमें जिन देशों में महामारी का प्रकोप रहता था, वहां से आए लोगों को रखा जात था. Lazareti Complex में ऐसे लोगों को 30 दिन के लिए क्वारन्टीन में रखा जाता था. इन लोगों को आइसोलेशन में रख शहर को महामारी से बचाने की ये एक कोशिश थी. 

क्वारन्टीन शब्द कि उत्पत्ति

इस कॉम्प्लेक्स में कई बड़े-बड़े कमरे बने थे, जो एक दूसरे से दूर थे. यहां रहने वाले लोगों का नाम एक रजिस्टर में दर्ज किया जाता था. इन्हें पहले 30 दिन और फिर बाद में ये अवधि बढ़ाकर 40 दिन कर दी गई. इसे इटैलियन में 'क्वारन्टीनो' कहते हैं, जिससे 'क्वारन्टीन' शब्द की उत्पत्ति हुई. 

वर्तमान में Lazareti क्रोएशिया का एक फ़ेमस टूरिस्ट स्पॉट है. अब यहां आर्ट गैलरी और क्लब्स की भरमार है. इन्हीं के बीच ये ऐतिहासिक इमारत भी मौजूद है.