भारतीय सेना का गठन 1776 में ईस्ट इंडिया कंपनी ने किया था. आज इंडियन आर्मी के पास 53 कैंटोनमेंट और 9 आर्मी बेस हैं. हर साल 15 जनवरी को भारतीय सेना 'सेना दिवस' मनाती है. चलिए आज आपको बताते हैं भारतीय सेना के इतिहास से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण तारीख़ों और दिवसों के बारे में. इन मौक़ों पर भारतीय सेना शहीदों को श्रद्धांजली देकर अपनी उपलब्धियों का जश्न मनाती है.  

1. सेना दिवस- 15 जनवरी

15 जनवरी 1949 में फ़ील्ड मार्शल केएम करियप्पा ने जनरल फ़्रांसेस बुचर से भारतीय सेना की कमान ली थी. इस उपलक्ष्य में सेना दिवस मनाया जाता है. इस मौक़े पर दिल्ली के करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड निकाली जाती है. साथ ही विभिन्न वीरता पुरस्कार भी बांटे जाते हैं. 

Army
Source: nyoooz

2. तटरक्षक दिवस- 1 फ़रवरी

1 फ़रवरी 1977 को भारतीय तटरक्षक बल (ICG) की स्थापना अंतरिम रूप से की गई थी. ICG औपचारिक रूप से 18 अगस्त, 1978 को अस्तित्व में आया था. इन्हें देश की समुद्री सीमा की रक्षा करने और उससे संबंधित क़ानूनों को लागू करने का काम सौंपा गया है.

Army
Source: joinindiancoastguard

3.कारगिल विजय दिवस -26 जुलाई

हर साल 26 जुलाई को कारगिल युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों की याद में भारतीय सेना 'विजय दिवस' मनाती है. 1999 में इसी दिन पाकिस्तानी सेना को हराकर उसके कब्ज़े से अपने हिस्से को वापस लिया था. 

Source: financialexpress

4. वायु सेना दिवस- 8 अक्टूबर

8 अक्टूबर 1932 को भारतीय वायु सेना(IAF) की स्थापना रॉयल एयर फ़ोर्स (RAF) की सहायक वायु सेना के रूप में की गई थी. देश के बंटवारे के बाद भारत सरकार ने रॉयल इंडियन एयर फ़ोर्स (RIAF) का नाम बरकरार रखा. इसके बाद 1950 में इसमें से रॉयल को हटा दिया गया था. 

Source: dnaindia

5. नौसेना दिवस- 4 दिसंबर

नौसेना दिवस 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध में जीत में अहम रोल निभाने वाली भारतीय नौसेना की शक्ति और बहादुरी की याद में मनाया जाता है. 'ऑपरेशन ट्राइडेंट' के तहत 4 दिसंबर, 1971 को भारतीय नौसेना ने पाकिस्तान के कराची नौसैनिक अड्डे पर हमला बोल दिया था. इस ऑपरेशन में पाकिस्तान के कई पाकिस्तानी जहाज़ों को डूबा दिया था और सैंकड़ों सैनिकों को भी मार गिराया था. 

Source: twitter

6. सशस्त्र सेना झंडा दिवस- 7 दिसंबर

1949 से हर साल इस तारीख़ को ये दिवस मनाया जाता है. इस दिन देश के नागरिकों से दान लेकर उसका इस्तेमाल सेनाओं में कार्यरत सैनिकों के कल्याण के लिए किया जाता है. 

Source: wikipedia

7. विजय दिवस- 16 दिसंबर

16 दिसंबर 1971 में इस दिन भारतीय सेना ने पाकिस्तान को एक बार फिर से मात दी थी. तब पाकिस्तान के 93,000 सैनिकों ने भारतीय सेना के सामने सरेंडर किया था. इसी दिन पाकिस्तान के दो टुकड़े हो कर बांग्लादेश अस्तित्व में आया था. 

Army
Source: jagran

जय हिंद!