कोरोना वायरस, पिछले साल फ़ैली वो महामारी जिससे देश अब तक नहीं निपट पाया है. हर रोज़ कोरोना कई लोगों को निगल रहा है और हम कुछ नहीं कर पा रहे हैं. हांलाकि, ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब किसी वायरस की वजह से लाखों जानें गई हैं. इससे पहले 1518 में भी एक महामारी आई थी. कहते हैं कि इस महामारी में तकरीबन 400 लोग बेमौत मारे गये थे. नाम था डांसिंग प्लेग (Dancing Plague).

dancing plague 1518
Source: owlcation

1518 में डांसिंग प्लेग नामक बीमारी का शिकार हुआ था फ़्रांस. आपको जानकर हैरानी होगी कि ये एक महामारी थी, जिसमें लोग नाचते-नाचते मौत को प्यारे हो गये थे. ये घटना इतिहास की रहस्यमयी घटनाओं में आती है, जिसे अब तक कोई नहीं सुलझा पाया है.

dancing plague mahamari
Source: publicdomainreview

Dancing Plague क्या था और कैसे शुरु हुआ?

कहा जाता है कि 500 साल पहले फ़्रांस के स्ट्रासबर्ग में एक युवा लड़की रहा करती थी. वहीं एक रोज़ पता नहीं उसे क्या हुआ, उसके हाथ-पैर हिलने लगे और वो नाचने लगी. महिला नाचने में इतनी मग्न हो गई कि वो डांस करते-करते बाहर आ गई. सड़क पर उसे यूं नाचता देख बाकी लोग भी इक्ठ्ठा हो गये. देखते ही देखते उसे देख 34 लोग साथ नाचते-नाचते मर गये.  

Dancing Mahamari
Source: youngisthan

एक रिपोर्ट में दावा किया गया कि फ़्रांस में अचानक आई इस बीमारी से प्रतिदिन लगभग 15 लोग मारे जाने लगे. कई इतिहासकारों ने इस घटना का ज़िक्र भी किया है. कई लोग इस घटना को भूत-प्रेत से जोड़ कर भी देख रहे थे. हांलाकि, वहीं दूसरी ओर जानकारों ने इसे महामारी घोषित किया. कई चित्किसकों द्वारा इसे मानसिक रोग भी बताया गया.

History Of dancing plague 1518
Source: wikimedia

कई बहस और रिसर्च से भी ये अब तक साबित नहीं हो पाया कि आखिर ये 'डांसिग प्लेग' था क्या और कहां से आया. ये रहस्यमयी घटना अब तक रहस्यमयी ही बनी हुई है.

तो समझ गये न आप ये महामारी जैसी बीमारियां पहले भी आ चुकी हैं. अब बस हमें इनसे बचकर निकलने की ज़रूरत है.