जापान दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है, जिसकी टेक्नोलॉजी का कोई तोड़ नहीं है. टेक्नोलॉजी के साथ-साथ जापान की लाइफ़स्टाइल भी बाक़ी देशों के मुक़ाबले काफ़ी अलग है. जापान के ज़्यादातर नियम और क़ानून जनता के हित में बनाये जाते हैं. इस देश के लोग ख़ुद नियम से चलते हैं और दूसरों को भी नियम से चलने का मैसेज देते हैं.

आज के नये जापान को देख कर लगता है कि सच में इस देश और वहां के लोगों से बहुत कुछ सीखा जा सकता है. पर क्या आज से 100 साल पहले भी जापान इतना ही पॉवरफ़ुल था? क्या हमेशा से वहां के लोग इतने खुलेपन वाली ज़िंदगी जी रहे थे? इन सारे सवालों के जवाब आपको मिलेंगे, लेकिन उससे पहले Arnold Genthe नामक फ़ोटोग्राफ़र द्वारा खींची गई तस्वीरों को देखिये.  

देखिये 100 साल पहले कैसा था जापान का हाल:

1. ज़िंदगी जीने की जद्दोज़हद दिख रही है 

Japani Life
Source: mymodernmet

2. 100 साल पहले वाला जापान काफ़ी अलग है 

Japan
Source: mymodernmet

3. वार्तालाप चल रहा है 

technology japan
Source: mymodernmet

4. एक ज़िंदगी ऐसी भी...

Japan People
Source: mymodernmet

5. सालों पहले ऐसी ज़िंदगी जी रहे थे जापानी 

Japan Lifestyle
Source: mymodernmet

6. टेक्नोलॉजी कहां है? 

Japan Road
Source: mymodernmet

7. अच्छी ज़िंदगी के लिये मेहनत जारी है 

Japan Pictures
Source: mymodernmet

8. तस्वीर का क़िस्सा समझिये 

History
Source: mymodernmet

9. लाइफ़स्टाइल देख कर लग रहा है कि वहां के लोग शुरु से ही मेहनती रहे हैं 

100 saal pehela ka japan
Source: mymodernmet

10. तस्वीर में दुकान दिख रही है 

modern log
Source: mymodernmet

11. तांगा खींचते हुए इंसान पर फ़ोकस करिये 

Japani Life
Source: mymodernmet

12. तस्वीरों के लिये फ़ोटोग्राफ़र का शुक्रिया कहना चाहिये 

Photography
Source: mymodernmet

13. बारिश में लोगों का आना-जाना नहीं रुका 

photographer
Source: mymodernmet

14. पानी-पानी हो रखा है 

Aaj ka japan
Source: mymodernmet

15. कुछ अमीरियत दिखी 

mordern life
Source: mymodernmet

16. दुकानें देख कर लग रहा है कि जापानी शुरु से अपना काम करने में यकीन रखते हैं 

Japan Shop
Source: mymodernmet

17. तस्वीर सुकून वाली है 

rare photos of japan
Source: grapee

18. जितनी मेहनत करते हैं, उतना ही रिलेक्स करते हैं 

Hardworking log
Source: mymodernmet

आपको जानकर हैरानी होगी कि जब फ़ोटोग्राफ़र ने 1908 में जापान का दौरा किया था, तब उन्होंने ये फ़ोटोज़ चुपके से ली थीं. शायद उस समय फ़ोटो लेने की परमिशन न हो. सोचिये अगर फ़ोटोग्राफ़र ने ये फ़ोटोज़ न ली होती, तो आज हमें जापान का ये रूप देखने को नहीं मिलता.