लखनऊ एक ऐसा शहर है, जहां आपको हर ओर ऐतिहासिक इमारतें दिख जाएंगी. साथ ही यहां अलग-अलग वक़्त पर बने कई धार्मिक स्थल भी हैं, जो शहर के मुख्य आकर्षण माने जाते हैं. इनमें से कई मंदिर धार्मिक के साथ ऐतिहासिक महत्व भी रखते हैं. शहर में हिंदू और मुसलमान, दोनों के ही कई धार्मिक स्थल मौजूद हैं, जिनमें बड़ी संख्या में लोग दर्शन करने पहुंचते हैं.

ये हैं लखनऊ के फ़ेमस धार्मिक जगहों की लिस्ट-

1. मनकामेश्वर मंदिर

मनकामेश्वर मंदिर डालीगंज पुल के पास स्थित है. ये लखनऊ के सबसे लोकप्रिय मंदिरों में से एक है. भगवान शिव को समर्पित ये मंदिर क़रीब 1,000 साल पुराना है. शिवरात्रि के मौके पर बड़ी संख्या में लोग इस मंदिर में दर्शन करने आते हैं.

2. जामा मस्जिद

शहर के बीचों-बीच स्थित इस ख़ूबसूरत मस्जिद का निर्माण सन 1423 में सुल्तान अहमद शाह ने करवाया था. पूरी मस्जिद पीले बलुआ पत्थर से बनी है. ये हिंदू-मुस्लिम वास्तुकला का भी एक अच्छा उदाहरण है. लखनऊ में मुसलमानों के लिए ये मस्जिद ख़ास महत्व रखती है.

3. बालाजी मंदिर

ये लखनऊ में नवनिर्मित मंदिर है, जो भगवान वेंकटेश्वर को समर्पित है. चारबाग़ रेलवे स्टेशन से 23 किमी. दूर स्थित इस मंदिर में शहरभर से लोग दर्शन करने पहुंचते हैं.

4. चंद्रिका देवी मंदिर

देवी चंद्रिका को समर्पित ये भव्य मंदिर क़रीब 300 साल पुराना है. ये मंदिर लखनऊ सीतापुर रोड के पास काठवार गांव में गोमती नदी के तट पर स्थित है. पौराणिक कथा के अनुसार, मंदिर की स्थापना राजकुमार चंद्रकेतु ने की थी. इस मंदिर को विदेशी आक्रमणकारियों ने नष्ट कर दिया था. हालांकि, बाद में मंदिर का जीर्णोद्धार किया गया. हर साल नवरात्रि और अमावस्या के दिनों में बड़ी संख्या में लोग इस मंदिर में आते हैं.

5. ख़म्मन पीर दरग़ाह

चारबाग़ स्टेशन के परिसर में स्थित ये दरग़ाह हिंदू और मुस्लिम दोनों के लिए ही महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है. दरगाह की वास्तुकला बेहद सुंदर है. हर गुरुवार बड़ी संख्या में लोग यहां दर्शन करने पहुंचते हैं. साथ ही हर साल यहां नातिया मुशायरा आयोजित होता है, जिसमें देशभर के फ़ेमस कवि हिस्सा लेते हैं. 

6. संकट मोचन हनुमान सेतु मंदिर

Source: wikipedia

लखनऊ के हज़रतगंज में स्थित ये मंदिर शहर वासियों के बीच काफ़ी लोकप्रिय है. मंगलवार और शनिवार को यहां हज़ारों लोग दर्शन करने पहुंचते हैं. यहां हनुमान जी को अर्ज़ी वाले हनुमान जी भी कहा जाता है. कहते हैं यहां भक्त अपनी समस्याओं को लिखकर भगवान को बताते हैं. 

7. शीतला माता का मंदिर

Source: fabhotels

मेहंदीगंज में स्थित शीतला देवी मंदिर भारत के सबसे पुराने देवी मंदिरों में से एक है. कहा जाता है कि विदेशी आक्रमणकारियों ने इस मंदिर में स्थित देवी की मूर्ति तोड़ डाली थी. बाद में बंजारों ने यहां मूर्ति पुनर्स्थापित की. इसलिए यहां पर देवी की मूर्ति पिण्ड के रूप में विद्यमान है और उसी की पूजा की जाती है. अष्टमी के बाद यहां ‘आठों का मेला’ भी लगता है.

8. भूतनाथ मंदिर

Source: fabhotels

भगवान को शिव को समर्पित ये मंदिर लखनऊ के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है. मंदिर मुख्य फ़ैज़ाबाद मार्ग पर इंदिरा नगर में स्थित है. मुख्य मंदिर में भगवान हनुमान की भी एक सुंदर मूर्ति स्थापित है. हर मंगलवार बड़ी संख्या में भक्त यहां प्रार्थना करने पहुंचते हैं. 

Source: indiafamousfor