Hindu Temples Outside India. संसार का सबसे पुराना धर्म है, हिन्दू धर्म (Hinduism). दक्षिण एशिया (South Asia) के कई देशों के लोग इस धर्म का पालन करते हैं. हिन्दू मंदिरों का इतिहास, बनावट भी उतने ही दिलचस्प हैं जितनी दिलचस्प है इस धर्म के फलने-फूलने की कहानी. शताब्दियों से हिन्दू मंदिर बनाये और विदेशी आक्रमणों में ढहाये गये. बीतते वक़्त के साथ दुनिया में सीमायें बंध गई और कई देश खड़े हो गये.  


आज दर्शन करते हैं कुछ ऐसे हिन्दू मंदिरों का जो भारत में नहीं, विदेशों में है- 

1. अंगकोरवाट, कंबोडिया 

दुनिया का सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर है, अंगकोरवाट मंदिर (Angkor Wat, Cambodia). 12वीं शताब्दी में इसे Khmer वंश के राजा सूर्यवर्मन II ने बनवाया था. 162 हेकटेयर में फैला ये मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है. 12वीं शताब्दी के आख़िर तक आते-आते इसे भगवान बुद्ध के मंदिर में बदल दिया गया. कंबोडिया का ये मंदिर दुनियाभर के लोगों के लिये आकर्षण केन्द्र है.  

Angkor Wat, Cambodia
Source: History

2. पशुपतिनाथ मंदिर, काठमांडू 

नेपाल की राजधानी काठमांडू स्थित पशुपतिनाथ मंदिर (Pashupatinath Temple) का निर्माण 753 ईस्वी में हुआ था. महादेव को समर्पित इस मंदिर का निर्माण राजा जयदेव ने करवाया और ये नेपाल के सबसे पुराने हिन्दू मंदिरों में से एक है. भारतीय मंदिरों के आर्किटेक्चर से इस मंदिर का आर्किटेक्चर काफ़ी अलग है. कुछ किंवदंतियां ये भी कहती हैं कि इस मंदिर का निर्माण 400 ईसा पूर्व में हुआ. अभी जिस मंदिर को हम देखते हैं इस ढांचे का निर्माण 1692 में किया गया. 0.64 हेकटेयर के Pashupatinath Complex में 518 मंदिर और स्मारक हैं.  

Pashupatinath Temple Complex
Source: Business Standard

3. श्री सुब्रमण्य स्वामी देवस्थानम, मलेशिया 

मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर (Kuala Lumpur) के उत्तर में स्थित है भगवान मुरुगन (Lord Murugan) की सबसे लंबी मूर्ति. इस मंदिर तक पहुंचने के लिये श्रद्धालुओं को 272 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती है. 1890 में एल.पिल्लई ने इस मूर्ति को बनवाया और Batu Caves के बाहर स्थापित किया. 

Bata Caves Sri Subramanya Swami Devasthanam
Source: Pinterest

4. कटासराज मंदिर, पाकिस्तान 

पृथ्वी के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है चकवाल, पाकिस्तान (Chakwal, Pakistan) का कटासराज मंदिर (Katasraj Temple). किंवदंतियां हैं कि महाभारत काल में पांडवों ने इस मंदिर में शरण ली थी. कहते हैं कि सती की मृत्यु के बाद महादेव के दो आंसूं से दो तलाब बन गये, एक तलाब पुष्कर में है और दूसरा कटासराज में. ऐतिहासिक रिकॉर्ड्स के मुताबिक़ कश्मीरी आर्किटेक्चर में यहां कई मंदिर बनाये गये.

Katasraj Mandir Pakistan
Source: Wikimedia

 5. प्रमबनन मंदिर, इंडोनेशिया

 9वीं शताब्दी में जावा (Java) में ये मंदिर बनवाया गया. प्रमबनन मंदिर (Prambanan Temple) त्रिदेव- ब्रह्मा, विष्णू, महेश को समर्पित है. महेश का मंदिर सबसे बड़ा है और बीच में स्थित है. मंदिर कम्प्लेक्स में 8 मुख्य 'गोपुरम' हैं जो सैंकड़ों छोटे गोपुरम से घिरे हैं. मंदिर की दीवारों पर रामायण, भागवत पुराण की कथायें उकेरी हुई हैं. 

Prambanan Temple Indonesia
Source: Wikipedia

6. श्री वेंकटेश्वर मंदिर, इंग्लैंड 

भारत के मशहूर तिरुपति बालाजी मंदिर (Tirupati Balaji Temple) से प्रेरित होकर बनाया गया ये मंदिर यूरोप (Europe) का सबसे बड़ा मंदिर है. भगवान वेंकटेश्वर (Lord Venkateshwar) को समर्पित ये मंदिर 23 अगस्त, 2006 को खोला गया. मंदिर में 12 फ़ीट की भगवान वेंकटेश्वर की मूर्ति है. मुख्य देवता के पास देवता की पत्नी, पद्मावती और भगवान हनुमान की मूर्तियां हैं. ये मंदिर हर धर्म के लोगों के लिये खुला है. 

Sri Venkateshwar Temple England
Source: N Sethia Foundation

7. राधा माधव मंदिर, यूएसए 

राधा माधव मंदिर (Radha Madhav Mandir) को बरसाना धाम (Barsana Dham) भी कहा जाता है. ये टेक्सस (Texas) का सबसे पुराना और उत्तरी अमेरिका (North America) का सबसे बड़ा मंदिर है. इस मंदिर के आस-पास मेडिटेशन सेन्टर भी बनाये गये हैं. 

Radha Madhav Templa, USA
Source: MNM Photography

8. श्री शिवा सुब्रमण्य मंदिर, फ़िजी 

फ़िजी (Fiji) में भारतीय मूल के कई लोग रहते हैं. श्री शिवा सुब्रमण्य मंदिर (Sri Subramanya Temple) लगभग 100 साल पुराना मंदिर है. 

Sri Siva Subramanya Temple Fiji
Source: Twitter

9. श्री काली मंदिर, म्यांमार 

म्यांमार (Myanmar) की राजधानी यांगून (Yangoon) स्थित Little India में है ये लगभग 150 साल पुराना मंदिर. 1871 में तमिल प्रवासियों ने इसका निर्माण किया. उस दौर में बर्मा (अब म्यांमार) अंग्रेज़ों के अधीन था. यानगून में रह रहे भारतीय इस मंदिर का रख-रखाव करते हैं. 

Sri Kali Temple Myanmar
Source: Caingram

10. दत्तात्रेय मंदिर, त्रिनिदाद एंड टोबैगो

 भारत के बाहर भगवान हनुमान (Lord Hanuman) की सबसे ऊंची मूर्ति है Carapichaima, Trinidad & Tobago में. इस मूर्ति की ऊंचाई 85 फ़ीट है. 2001 में इस मूर्ति का निर्माण कार्य पूरा हुआ. दत्तात्रेय मंदिर गणपति सच्चिदानंद को समर्पित है और मंदिर के पश्चिमी तरफ़ है हनुमान की मूर्ति. 

Source: Celebrating Existence

11. मुरुगन मंदिर, ऑस्ट्रेलिया 

सिडनी, ऑस्ट्रेलिया (Sydney, Australia) के New South Wales क्षेत्र में है मुरुगन मंदिर (Murugan Temple). यहां रह रहे एक तमिल शख़्स ने इसका निर्माण करवाया था. शैव-मनरम की हिन्दू सोसाइटी इसका रख-रखाव करता है.

Murugan Temple Australia
Source: Temple Purohit

पेशकश कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में बताइये. 

Source- Post ToastMetro SagaTour Travels World