Kasar Devi Temple of Almora, Uttarakhand. देवभूमि उत्तराखंड के मुकुट का एक और रत्न है अल्मोड़ा. ज़िला अल्मोड़ा में हिमालय की पहाड़ियों और घने जंगलों के बीच बसा है गांव, कसार देवी (Kasar Devi). ये गांव न सिर्फ़ ट्रेकिंग (Trekking) के शौक़ीनों, ट्रैवलर्स (Travelers) से लेकर आध्यात्म (Spiritualism) की खोज में निकले इंसानों के लिये भी ख़ास है. 

Source: Misfit Wanderers

ये भी पढ़िये- ये है दुनिया का सबसे अमीर मंदिर, इस रहस्यमयी मंदिर की कुल संपत्ति है 2 लाख करोड़ रुपये 

कसार देवी मंदिर 

Trip Advisor के अनुसार, कसार देवी गांव में कसार देवी को समर्पित मंदिर है. कहते हैं ये मंदिर दूसरी शताब्दी में बनाया गया था. Gosahin के लेख की मानें तो मंदिर की अभी की इमारत 1948 में बनवाई गई.  

Source: Liamtra

ये भी पढ़िये- देवभूमि उत्तराखंड सिर्फ़ घूमने जाने वालों, अगली बार वहां के इन 16 मंदिरों के दर्शन भी कर लेना

मंदिर से जुड़ी धार्मिक कथा 

कहते हैं कसार पर्वत पर देवी ने दो दानव शुम्भ निशुम्भ का वध किया था. देवी दुर्गा के वाहन सिंह के चिह्न देवी के मूर्ति के पीछे अब भी दिखाई देते हैं. मंदिर से थोड़ी दूरी पर ही एक शिव मंदिर है जो किसी दक्षिण भारतीय ने बनवाया था. कहते हैं यहां पर स्वामी विवेकानंद ने ध्यान लगाया था और इसका ज़िक्र उनकी डायरी में भी मिलता है.  

Source: Tripoto

मंदिर की ख़ासियत 

कसार देवी मंदिर Van Allen Belt में आता है. ये बेल्ट एक Geomagnetic Field है और कहते हैं यहां ध्यान करने वाले का मन प्रसन्न होता है और उसके चित्त को शांति और सकारात्मक ऊर्जा मिलती है. कसार देवी मंदिर क्षेत्र के अलावा पृथ्वी पर ऐसे और 2 ही क्षेत्र हैं- Machu Pichu, Peru और Stonehenge, England. यहां मौजूद ऊर्जा को देखकर NASA के वैज्ञानिक भी चौंक गये थे.  

Source: Outlook

कई ख़ास शख़्सियतों ने यहां गुज़ारा वक़्त 

कसार देवी गांव में कई मशहूर लोगों ने आकर रहे और ध्यान किया. 1890 के दशक में स्वामी विवेकानंद ने यहां काफ़ी समय बिताया. नीम करोली बाबा भी अपने शिष्यों के साथ यहां पधारे थे. सुन्यता बाबा (Alfred Sorensen), तिब्बती बौद्ध लामा अंगरिका गोविंदा, अमेरिकी गायक और गीतकार Bob Dylan, म्यूज़िशियन George Harrison, लेखक D.H.Lawrence जैसे कई लोग यहां आये, ध्यान किया और प्रेरणास्त्रोत ढूंढा.  

1938 में महान नर्तक उदय शंकर ने कुमाऊं की घाटी स्थित सिमतोला में उदय शंकर इंडियन कल्चरल सेन्टर की स्थापना की. 1936 से 1942 के बीच वे यहां रुके और भारतीय शास्त्रीय नृत्य और कुमाऊंनी रामलीला मिलाकर एक नया Dance Form बनाया.  

Source: Liamtra

Hippie Hill 

कसार देवी गांव के बाहर ही देवदार वृक्षों (Pine Trees) से घिरा एक क्षेत्र है जिसे स्थानीय निवासी हिप्पी हिल (Hippie Hill) कहते हैं. इस क्षेत्र का दूसरा नाम Crank's Ridge है. 1960 के दशक में चले Hippie Movement के दौरान, अमेरिकी मनोवैज्ञानिक Timothy Leary यहां आकर रुके थे. 

Source: Indian Express

हम मंदिरों के बारे में ऐसी जानकारी आपके लिये लाते रहेंगे. पेशकश कैसी लगी Comment Box में बताइये.