द्वितीय विश्व युद्ध(Second World War) 1939-45 के बीच हुआ था. इतिहास के इस सबसे बड़े घातक युद्ध में 4-5 करोड़ लोग मारे गए थे. अमेरिका ने जापान पर परमाणु बम फेंक कर इसे विनाशकारी बना दिया था, मगर पैदल सैनिकों ने भी एक-दूसरे से जमकर लोहा लिया था.

इस युद्ध में सैनिकों ने एक से बढ़कर एक आधुनिक हथियार भी इस्तेमाल किए थे. चलिए आज द्वितीय विश्व युद्ध में इस्तेमाल हो चुके कुछ ख़तरनाक हथियारों के बारे में भी जान लेते हैं. इनमें से अधिकतर हथियारों को आप वर्चुअली Call Of Duty गेम में भी इस्तेमाल करते हैं. 

ये भी पढ़ें: ये हैं दुनिया के 5 सबसे ख़तरनाक हथियार, जिनका इस्तेमाल करना पूरी तरह से प्रतिबंधित है

1. MP40 

MP40 को जर्मन्स ने बनाया था. ये एक ऑटोमेटिक मशीन पिस्तौल थी. 4 किलोग्राम की इस गन से एक बार में 32 गोलियां डलती थे और इसकी रेंज 250 मीटर थी. 

MP40
Source: wikimedia

2. Type 100 Submachine Gun 

ये बंदूक जापान में बनी है. ये 450 गोलियां प्रति मिनट की दर से फ़ायरिंग कर सकती है. इसकी रेंज 100-150 मीटर थी. ख़ास सैनिक ही इसका इस्तेमाल करते थे. 

Type 100 Submachine Gun
Source: rockislandauction

3. Colt M1911A1  

ये एक सेमी-ऑटोमेटिक 7 राउंड पिस्टल है. अमेरिका में ये बहुत इस्तेमाल होती थी. इसकी रेंज 20 मीटर थी और वज़न 1 किलोग्राम से ज़्यादा. 

Colt M1911A1
Source: d4guns

4. M1 Carbine 

इस लाइटवेट गन को अमेरिका ने द्वितीय विश्वयुद्ध के लिए बड़े पैमाने पर बनाया था. इससे 60-70 गोलियां प्रति मिनट दागी जा सकती थीं और इसका वज़न 2.5 किलोग्राम था. 

 M1 Carbine
Source: nationalinterest

5. Lee-Enfield No. 4 Rifle 

ब्रिटिश सेना की पसंदीदा राइफ़ल थी. इसकी रेंज 500 मीटर थी और एक मिनट में इससे 30 गोलियां फ़ायर की जा सकती थीं. 

Source: flickr

6. Winchester Model 1897  

अमेरिकन आर्मी में ये गन बहुत फ़ेमस थी. ये शॉटगन 20 मीटर की रेंज में 5 गोलियां फ़ायर कर सकती थी. इसका वज़न 3.6 किलोग्राम था. 

Winchester Model 1897
Source: artstation

7. M2 Flamethrower 

ये आग उगलने वाली गन थी. ये 40 मीटर के भीतर दुश्मन को राख में बदल देने का काम करती थी. अमेरिका ने इसे बनाया था. इसके सिलेंडर को कंधों पर लाद कर सैनिक चलते थे.

M2 Flamethrower
Source: wikimedia

8. MG 42 

1200 राउंड प्रति मिनट की दर से फ़ायर करने वाली इस गन की रेंज 1000 मीटर थी. जर्मनी की ये गन आज भी कई देशों की सेना इस्तेमाल करती है. 

MG 42
Source: nationalww2museum

9. PPSh-41 Submachine Gun 

रूस ने इस गन का निर्माण किया था. इसका वज़न 3.6 किलोग्राम था और फ़ायरिंग रेंज 200 मीटर. इस गन की क्षमता 70 राउंड थी.

PPSh-41 Submachine Gun
Source: free3d

10. M1918A2 Browning Automatic Rifle  

अमेरिकन आर्मी ने इसे खूब इस्तेमाल किया था. ये 7.25 किलोग्राम की मशीन गन है जिसकी रेंज 1400 मीटर है. इसे ख़ासतौर पर द्वितीय विश्वयुद्ध के लिए बनाया गया था.

Source: gundigest

वाकई में ये बंदूकें बहुत कमाल की थीं.