Chandan Roy Panchayat Actor: Panchayat Web Series ऑटीटी प्लेटफ़ार्म की चुनिंदा सबसे ज़्यादा पसंद की जाने वाली बेव सीरीज़ में शामिल हो गई है. गांव की छोटी-छोटी ख़ुशियां और नोक-झोंक को अपने में समाई इस वेब सीरीज़ को जो भी देख रहा है, तारीफ़ करते नहीं थक रहा है.


वहीं, TVF द्वारा बनाई गई पंचायत वेब सीरीज़ ने जहां जीतेंद्र कुमार जैसे उभरते कलाकरों को अपना दमदार अभिनय दिखाने का मौक़ा दिया, तो वहीं, चंदन रॉय जैसे अभिनेताओं को एक अलग पहचान दी.
 
इस ख़ास आर्टिकल में हम बात करेंगे पंचायत वेब सीरीज़ के अभिनेता चंदन रॉय (Chandan Roy Panchayat Actor) के बारे में, जिनका अभिनय काफ़ी पसंद किया जा रहा है. कई दिलचस्प बातों के साथ जानेंगे कि कैसे उन्हें पंचायत वेब सीरीज़ में उन्हें काम करने का मौक़ा मिला.   

आइये, अब विस्तार से पढ़ते हैं आर्टिकल (Chandan Roy Panchayat Actor). 

सिनेमा के प्रति दिलचस्पी 

chandan roy
Source: patnabeats

Chandan Roy Panchayat Actor : पंचायत वेब सीरीज़ के एक्टर चंदन रॉय बिहार के वैशाली ज़िले के महनार ब्लॉक के रहने वाले हैं. उनका जन्म 20 दिसंबर 1995 को हुआ था. बचपन से ही एक्टिंग के प्रति उनकी दिलचस्पी बढ़ गई थी. वो स्कूल में नाटकों में हिस्सा लिया करते थे. वहीं, आगे की पढ़ाई के लिए वो पटना चले आए थे, जहां उन्होंने पटना विश्वविद्यालय से Bachelors in Mass Communication की पढ़ाई पूरी की.


कॉलेज के दौरान भी वो प्ले में हिस्सा लिया करते थे. इसके बाद उन्होंने Indian Institute of Mass Communication ज्वाइन कर लिया था. एक मीडिया संगठन को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि, “हम टीवी और वीसीआर किराए पर लेते थे और शक्तिमान, कैप्टन व्योम, चित्रहार व रंगोली देखते थे. मेरे दोस्त खाली समय में क्रिकेट खेल रहे होते थे और मैं हॉल में मिथुन चक्रवर्ती और गोविंदा की फ़िल्में देखने जाता था.”  

मां चाहती थी कि बेटा दारोगा बने  

chandan roy
Source: thelitthings

हर माता पिता की तरह चंदन रॉय के माता-पिता ने भी उनसे कई उम्मीदें लगाई थीं. एक मीडिया संगठन से बात करते हुए उन्होंने बताया था कि उनकी मां चाहती थीं कि बेटा दारोगा बनें. हालांकि, वो अभी वही चाहती हैं कि बेटा वापस घर आ जाए, तो पुलिस में शामिल हो जाए. चंदन के पिता पटना में पुलिस इंस्टपेक्टर हैं और वो भी चाहते हैं कि बेटा पटना में आकर ही कुछ करे.  

सरकारी नौकरी और समाज में सम्मान  

chandan roy
Source: scroll

Chandan Roy Panchayat Actor : चंदन रॉय ने इंटरव्यू में ये भी बताया कि, “हम जिस जगह से आते हैं, वहां लोग समझते हैं कि अगर सरकारी नौकरी है, तो ही समाज में सम्मान मिलेगा, अच्छी जगह शादी होगी और ख़ूब सारा दहेज मिलेगा. मेरे लिए घरवालों की इच्छा के विपरित जाकर एक्टिंग की दुनिया को चुनना उतना आसान नहीं था. वहीं, मायानगरी में पंचायत जैसी वेब सीरीज़ में काम मिलना भी मेरे लिए उतना आसान नहीं था. चंदन आगे बताते हैं कि हमारी मां आज भी कहती हैं कि घर आ जाओ, उम्र चली गई, तो सरकारी नौकरी नहीं मिलेगी. नहीं तो पटना में ही पान की दुकान खोलनी पडे़गी.” 

कुछ इस तरह मिला पंचायत वेब सीरीज़ में काम  

chandan roy
Source: wikipedia

पंचायत वेब सीरीज़ में काम मिलने के पीछे भी एक दिलचस्प क़िस्सा जुड़ा है. क़िस्सा बताते हुए चंदन कहते हैं कि, “मैं उन दिनों मुंबई के अंधेरी वेस्ट के आराम नगर में ऑडिशन के लिए चक्कर लगाया करता था. एक दिन मुझे पता चला कि ‘कास्टिंग बे’ नाम की एक एजेंसी किसी वेब सीरीज़ के लिए ऑडिशन ले रही है. मैं भी वहां पहुंच गया. वहां कास्टिंग देख रहे एक व्यक्ति मिले, जिन्होंने सबसे पहले मुझे नीचे से ऊपर देखा और कहा कि रात दो बजे आना. 

मैंने उनकी बात को गंभीरता से ले लिया और पहुंच गया रात दो बजे ऑडिशन के लिए. वो व्यक्ति मुझे देखकर चौक गए और बोले कि तुम आ गए. उन्होंने अपनी बात का मान रखते हुए मेरा ऑडिशन लिया और मेरा पंचायत वेब सीरीज़ के लिए सिलेक्शन हो गया.” 

घरवालो को रहती है चिंता  

panchayat chandan
Source: youtube

Chandan Roy Panchayat Actor : चंदन रॉय बताते हैं कि उनके घरवालों को अभी भी नहीं लगता कि बेटा कुछ बड़ा काम कर रहा है. वो अभी भी यही कहते हैं कि वो घर आ जाओ और पुलिस में भर्ती हो जाओ. उन्हें ये भी चिंता रहती है कि बेटा अपनी कमाई से रही से खा पी रहा है कि नहीं.