Koffee With Karan Season 7: 'कॉफ़ी विद करण' के लेटेस्ट एपिसोड में आमिर ख़ान और करीना कपूर ख़ान (Aamir Khan and Kareena Kapoor Khan) गेस्ट बनकर आए थे. इन दोनों स्टार्स ने यहां खुलकर करण जौहर के सवालों का जवाब दिया. इस एपिसोड में करण ने आमिर ख़ान को बॉलीवुड की फ़िल्में न चलने का कारण बताया. इस आरोप पर आमिर ख़ान ने क्या कहा चलिए जानते हैं.

Koffee With Karan Season 7 Episode 5

ये भी पढ़ें: Koffee With Karan Season 7: जब शो में करण जौहर बने मैचमेकर तभी बनी बॉलीवुड की ये 5 जोड़ियां

 शो में करण जौहर ने आमिर से पूछे कड़े सवाल  

Koffee With Karan Season 7 Episode 5

दरअसल, शो के दौरान करण जौहर ने बताया कि क्यों बॉलीवुड की मूवीज़ नहीं चल रही हैं. उन्होंने इसका एक कारण बताया कि साउथ इंडियन फ़िल्में जैसे RRR, KGF और 'पुष्पा' ने बॉक्स ऑफ़िस पर अच्छा काम किया, ये पूरे देश में हिट रहीं. जबकि हमारी कुछ फ़िल्मों ने बॉक्स ऑफ़िस पर उतना अच्छा प्रदर्शन नहीं किया. बॉलीवुड फ़िल्मों के न चलने का एक कारण आमिर ख़ान भी हैं. क्योंकि आमिर ने ‘दिल चाहता है’, ‘लगान’, ‘रंग दे बसंती’, ‘तारे ज़मीन पर’ जैसी फ़िल्में कर बॉलीवुड मूवीज़ की टोन बदल दी.

ये भी पढ़ें: Koffee With Karan Season 7: EP 5 में करीना और आमिर ने क्या किया धमाल, 10 Highlights में जानिए 

करण जौहर ने अपने सवालों के तर्क भी दिए

Koffee With Karan Season 7

करण जौहर ने बताया कि क्यों बॉलीवुड की मूवीज़ नहीं चल रही हैं. उन्होंने कहा साउथ इंडियन फ़िल्में यहां अच्छा काम कर रही हैं, इसकी वजह आमिर ख़ान भी हैं. क्योंकि आमिर ने 2001 में 'दिल चाहता है', 'लगान' जैसी फ़िल्में दीं, जिनमें नई संवेदनाएं थीं. फिर उन्होंने 'रंग दे बसंती', 'तारे ज़मीन' पर जैसी फ़िल्में कर बॉलीवुड मूवीज़ की टोन बदल दी. इसके परिणामस्वरूप आमिर ने एक ख़ास दर्शक और फ़िल्म मेकर बनाने शुरू कर दिए.

आमिर ने ऐसे रखा अपना पक्ष  

Koffee With Karan Season 7 Episode 5

इस आरोप का आमिर ख़ान ने खुलकर जवाब दिया. उन्होंने कहा- 'नहीं आप ग़लत हैं. ये सभी फ़िल्में लोगों के दिल के क़रीब थीं. इनमें इमोशन था, वो आम आदमी तक पहुंचीं. ये कुछ ऐसी थीं जिससे आप भावनात्मक रूप से जुड़ सकते हैं. रंग दे बसंती एक बहुत ही इमोशनल फ़िल्म थी, वो ज़मीनी स्तर पर लोगों को छूती है.'

Koffee With Karan Season 7

Koffee With Karan Season 7 Episode 5

आमिर ने आगे कहा- 'मैं ऐसा नहीं कह रहा हूं कि आप एक्शन फ़िल्में बनाओ. अच्छी कहानियों के साथ अच्छी फ़िल्में बनाएं, लेकिन ऐसे विषय चुनें जो ज़्यादातर लोगों के लिए प्रासंगिक हों. हर फ़िल्म निर्माता को वो बनाने की आज़ादी होती है जो वे चाहते हैं. लेकिन जब आप कुछ ऐसे विषय चुनते हैं जिसमें लोगों की दिलचस्पी नहीं है.. हमारे यहां ऐसे लोग हैं जो कुछ नया देखने में दिलचस्पी रखते हैं…मेरे ख़्याल से यही अंतर है.'

आमिर अपनी बात को यहीं पर विराम देते हैं फिर शो आगे बढ़ता है. वैसे आमिर के जवाब से आप कितना सहमत हैं?  

साथ ही आपको ये भी बता दें, Koffee With Karan Season 7 के Presenting Sponsor हैं MyGlamm. ब्यूटी, मेकअप और स्किन केयर के लिए यहां पाएं ज़बरदस्त प्रोडक्ट्स. 'कॉफ़ी विद करण' से जुड़ी और अपडेट्स के लिए ScoopWhoop हिंदी के साथ जुड़े रहें. 

और हां, My Glamm की तरफ़ से ये FREE Gift पा कर, GLAMM Up Like a Star https://bit.ly/39TetvT