Panchayat Actor Ashok Pathak: इन दिनों जिसको देखो वो Amazon Prime Video पर आई TVF की वेबसीरीज़ पंचायत 2 (Panchayat Web Series) की चर्चा कर रहा है. और करें भी क्यों न सीरीज़ की कहानी हो या किरदार सभी चर्चा के लायक हैं. इसका पहला सीज़न भी धमाकेदार रहा था, हर एक किरदार को लोगों ने पसंद किया था. फिर वो सरपंच जी हों या सरपंच पति, सचिव जी हों या उप प्रधान प्रह्लाद चा, विकास हो या रिंकी या फिर बनराकस सभी ने अपने काम से लोगों का दिल जीत लिया है. इस बार इन सबके अलावा एक ऐसा किरदार और है, जिसकी तारीफ़ हो रही हैं, वो है विनोद, जिसकी टॉयलेट सीट विकास तोड़ देता है और वो 2 साल से अपने घर में शौचायल बनने का सपना देख रहा होता है. 

Ashok Pathak Panchayat Actor
Source: janhitkhabar

ये भी पढ़ें: चंदन रॉय: जानिए कैसे मुंबई की गलियों के चक्कर काटते-काटते मिला 'पंचायत' में विकास का किरदार

छोटे से फुलेरा गांव की इस कहानी ने कई लोगों को बड़ी उपलब्धि दिला दी. जिस तरह से सीरीज़ की कहानी को गढ़ा गया है वो कहीं न कहीं ख़ुद से जुड़ी हुई लगती है. हर किरदार की बारीक़ियों पर काम किया गया है, जिसकी वजह से किरदार से जुड़ाव होना लाज़िमी है. जैसे विनोद के किरदार से हुआ. निम्न वर्ग की मुश्किलों को दर्शाते विनोद के किरदार को अलग पहचान दे दी.

Ashok Pathak Panchayat Actor
Source: twimg

आज इस आर्टिकल में विनोद का किरदार निभाने वाले अशोक पाठक (Panchayat Actor Ashok Pathak) के बारे में बताएंगे कि इससे पहले उन्होंने कौन सी फ़िल्में या वेबसीरीज़ की है? या वो इंडस्ट्री का हिस्सा बनने से पहले क्या करते थे?

अशोक पाठक ने विनोद का किरदार निभाया है, जो बिहार के सिवान के रहने वाले हैं. एक इंटरव्यू के दौरान अशोक ने अपनी ज़िंदगी के कुछ पलों को साझा किया था,

उनके परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नही थी, जिसके चलते उनके पिता काम की तलाश में पूरे परिवार के साथ सिवान से हरियाणा के फ़रीदाबाद में शिफ़्ट हो गए. उस समय विनोद 9वीं कक्षा में पढ़ते थे और वो अपने परिवार की मदद करना चाहते थे, इसलिए उन्होंने अपने चाचा के साथ साइकिल पर रुई बेचने का काम शुरू कर दिया. विनोद और उनके चाचा तपती दोपहर में रुई बेचा करते थे, जिससे वो 100 से 150 रुपये तक रोज़ाना कमा लेते थे.

ये भी पढ़ें: जानिए कौन है भूषण उर्फ़ 'बनराकस' का किरदार निभाने वाला एक्टर, क्या होता है 'बनराकस' का मतलब?

आगे बताया,

12वीं की पढ़ाई करते हुए अशोक का रुझान एक्टिंग की ओर होने लगा क्योंकि उनका पढ़ाई में मन नहीं लगता था और वो थियेटर करते थे. फिर उन्होंने भारतेंदु अकैडमी में एडमिशन लिया. जहां उन्हें स्कॉलरशिप भी मिल गई. इन्हें मुंबई आए 11 साल हो गए हैं और वो 40 हज़ार रुपये लेकर मुंबई आए थे.

अशोक पाठक ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत फ़िल्म बिट्टू बॉस से की थी. इन्होंने वेबसीरीज़ आर्या 2 में भी काम किया है. अशोक ने पंचायत 2 में विनोद का किरदार (Panchayat Actor Ashok Pathak) मिलने के पीछे की कहानी बताते हुए कहा,

मुझे कास्टिंग डायरेक्टर का फ़ोन आया, जो मेरा दोस्त है उसने कहा कि छोटा सा रोल है. मुझे केवल एक दिन के लिए शूटिंग करनी होगी. मुझे कई साल से रेहड़ी वाला, ड्राइवर और सिक्योरिटी गार्ड के रोल में मिल रहे थे. मुझे लगा विनोद का भी रोल ऐसा ही होगा. मैं दो-तीन दिन तक ऑडिशन को लगातार टाल रहा था क्योंकि वो मेरा दोस्त ता तो मैंने उसे ऑडिशन का वीडियो भेज दिया, जो उन्हें पसंद आ गया और मुझे रोल मिल गया.

                    - अशोक पाठक

Ashok Pathak
Source: india

विनोद ने धीमी आवाज़ से खेत में जो क्रांति लाई थी उस सीन को तो कोई भी नहीं भूल पाएगा. अगर कहा जाए तो, पंचायत 2 के बेहतरीन सीन में से एक सीन है विनोद का खेत वाला सीन.

Ashok Pathak

आपको बता दें, छोटे-छोटे रोल करने वाले अशोक पाठक को इस किरदार (Panchayat Actor Ashok Pathak) ने घर-घर में पहचान दिला दी. अशोक पाठक का मुंबई में 1 BHK फ़्लैट है.