बॉलीवुड स्टार अभिषेक बच्चन (Abhishek Bachchan) को फ़िल्म इंडस्ट्री में काम करते हुए लगभग 21 साल हो गए हैं. इस दौरान उन्होंने कई हिट और फ़्लॉप फ़िल्मों में काम किया. उन्हें अपने पिता के नक्शेकदम पर चलकर यहां अपना एक अलग मुकाम बनाना काफ़ी कठिन रहा.

abhishek bachchan amitabh bachchan
dnaindia

एक दौर ऐसा भी आया था जब अभिषेक बच्चन को लग रहा था कि उन्होंने एक्टिंग को करियर के रूप में चुनकर बहुत ग़लत फ़ैसला लिया है. तब उनके पिता यानी अमिताभ बच्चन ने उनसे क्या कहा था उससे जुड़ा एक दिलचस्प क़िस्सा आज हम आपको बताएगें. 

ये भी पढ़ें: क्या आपको पता था कि अभिषेक बच्चन को गाड़ियों का शौक़ है? देखिए उनके कलेक्शन की ये 5 कारें

refugee movie
cinestaan

अभिषेक बच्चन ने फ़िल्म ‘रिफ़्यूजी’ (Refugee) से फ़िल्मी पर्दे पर कदम रखा था. उनके करियर की शुरुआत कुछ ख़ास नहीं रही. शुरुआती दौर में उनकी कई फ़िल्म बॉक्स पर पानी पीती नज़र आईं. उन्हें फ़िल्मों में कास्ट तो किया जाता लेकिन कुछ दिनों की शूटिंग के बाद फ़िल्म से बाहर कर दिया जाता. 

abhishek bachchan amitabh bachchan
indianexpress

ये कहकर कि फ़िल्म नहीं बन रही है, जबकि उसी फ़िल्म की शूटिंग किसी और एक्टर के साथ हो रही है ये बाद में उन्हें पता चलता. ऐसे दौर में अभिषेक टूट चुके थे, उन्हें अपने एक्टर बनने के फ़ैसले पर शक होने लगा था. अभिषेक ने ख़ुद एक इंटरव्यू में ये बात कु़बूल की है.

ये भी पढ़ें: क़िस्सा: जब अमिताभ बच्चन हो गए थे दिवालिया, कर्ज़ ना चुकाने के लिए सुननी पड़ीं थी गालियां

abhishek bachchan amitabh bachchan
outlookindia

उन्होंने इस बारे में बात करते हुए कहा- ‘जब मणिरत्नम ने मुझे ‘युवा’ ऑफ़र की तो उस वक़्त मेरी कोई फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर नहीं टिक रही थी. एक अभिनेता के रूप में सचमुच मैं समाप्त हो चुका था. मेरा पास कोई काम नहीं था. मुझे दो दिनों की शूटिंग के बाद फ़िल्म से निकाल दिया जाता. फ़िल्म बंद हो गई है का बहाना बना और बाद में किसी और के साथ वो फ़िल्म बनने लगती. ऐसे में आप टूटने लगते हैं, आत्मविश्वास खोने लगता है. आपको साप्ताहिक आधार पर ये बताया जाता कि आपको एक्टिंग नहीं आती.

Abhishek Bachchan

वो इस बात से इतने परेशान हो गए कि एक्टिंग छोड़ने के बारे में बात करने लगे. इस बारे में अभिषेक बच्चन ने अपने पिता से भी बात की. अभिषेक ने अपने पिता से एक रात कहा-‘मैंने ग़लती कर दी मुझे एक्टर नहीं बनना चाहिए था’. 

अमिताभ बच्चन ने अपने बेटे का आत्मविश्वास बहाल करने की कोशिश करते हुए कहा-‘इस तरह कभी बात मत करना. मैंने तुम्हें ऐसे नहीं पाला है कि तुम हार मान लो. इसे जारी रखो, आप सुधार कर रहे हैं जिस दिन आप अच्छा नहीं कर रहे होंगे तो मैं ख़ुद आपको बताऊंगा.’ 

abhishek bachchan amitabh bachchan
outlookindia

इस वार्तालाप के बाद ही अभिषेक बच्चन को मणिरत्नम का कॉल आया था. अभिषेक ने कहा कि उन्होंने उनको बुरे समय में काम दिया जिसके लिए वो सदा आभारी रहेंगे. साथ ही ईश्वर की कृपा से उन्हें पहली बार अच्छे रिव्यू मिले थे. ये बात अभिषेक बच्चन ने फ़रहान अख़्तर के टॉक शो ओए इट्स फ़्राइडे (Oye It’s Friday) में बताई थी.