(World's Most Controversial Monuments)- सदियों पुराने बने स्मारकों के पीछे छुपी कहानियां होती है. जिनके बारे में हमेशा हमे आधा सच पता होता है. जैसे प्यार की निशानी में बना "ताज महल". जिसे पूरी दुनिया से पर्यटक देखने आते हैं. सिर्फ़ भारत में नहीं, बल्कि दुनिया में ऐसे बहुत से स्मारक हैं. जिनकी ख़ूबसूरती और इतिहास मन मोह लेने वाली है. लेकिन, हर एक चीज़ का दूसरा पहलू भी होता है. इन ख़ूबसूरत दिखने वाले स्मारक के पीछे डार्क इतिहास है. कारीगरों के हाथ काटना जैसे अन्य कहानियां भी है. जिसके बारे में शायद ही लोग जानते हैं. इसीलिए आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको दुनिया के कुछ विवादित स्मारकों और उनके पीछे की कहानी के बारे में बताएंगे.

ये भी पढ़ें: इन 25 स्मारकों को देखकर आपको लगेगा, जैसे ये भविष्य से निकल कर वर्तमान में आये हैं

चलिए देखते हैं, कौन-कौनसे विवादित स्मारक है इस लिस्ट में शामिल (World's Most Controversial Monuments)-  

- ताजमहल (भारत)

tajmahal
Source: designingbuildings

ताजमहल को प्यार का प्रतीक भी माना जाता है. जो "दुनिया के सात अजूबों" में से एक है. हाल ही में ताजमहल काफ़ी चर्चाओं से घिरा हुआ था. कहा जाता है कि, राजा शाहजहां ने ताजमहल का निर्माण पूरा के बाद कारीगरों के हाथ कटवा दिए थे. ताकि इतिहास में कोई दूसरा ताजमहल जैसा स्मारक न बन सके. हाल ही में ताजमहल के कमरों और दिया कुमारी जो जयपुर के आख़िरी शासक की पोती हैं. उन्होंने केस दायर किया है कि, ताजमहल जिस भूमि पर बना है, वह दरसल जयपुर के राजा जय सिंह की है.

- यासुकुनी शिंटो श्राइन (टोक्यो)

tokyo
Source: tokyocheapo

यासुकुनी श्राइन 1869 में टोक्यो में बना था. यह श्राइन ' उन वीरों के लिए बना था, जिन्होंने अपने देश के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया था." इस श्राइन में कुल 2.5 मिलियन नाम अंकित किया गया है. जिसमे से 14 नाम "क्लास A" वॉर क्रिमिनल्स के भी है. उन नामों में से एक नाम जनरल का भी है. जो पर्ल हार्बर में अमेरिकी हमले का सबसे बड़ा गुनहगार था. दूसरा नाम एक और जनरल का है, जिन्होंने 1937 में 2,00,000 सिविलियन्स को मारने का आदेश दिया था.(World's Most Controversial Monuments)

- फॉलेन की घाटी (स्पेन)

spain
Source: 99percentinvisible

फॉलेन की घाटी स्पेनिश सिविल वॉर के सैनिकों के लिए बनाया गया था. यह घाटी विवादित इसलिए मानी जाती है, क्योंकि यहां स्पेन के तानाशाह फ्रांसिस्को फ़्रैंको का विश्राम स्थल भी है. यही एकमात्र कारण है की "वैली ऑफ़ द फॉलेन" (Valle de los Caidos) स्पेन का सबसे विवादित स्मारक कहा जाता है. जनरल फ्रांसिस्को देश के पूर्व तानाशाह थे. जो नाज़ी जर्मनी और फ़ासीवादी इटली की वजह से सत्ता में आये थे.  

- स्टेचू ऑफ़ द फॉलेन एंजेल (स्पेन)

spain
Source: mysteriumtours

ये कहा जाता है कि, मेड्रिड (स्पेन) में बना ये स्टेचू शैतान को समर्पित किया गया है. यह दुनिया का एकलौता ऐसा स्मारक है, जो शैतान को समर्पित किया गया है. यह स्टेचू 19वीं शताब्दी दौरान बनाया गया था. (World's Most Controversial Monuments)

- माउंट रशमोर ( संयुक्त राज्य अमेरिका)

mountrushmore
Source: npr

माउंट रशमोर अमेरिका का सबसे प्रसिद्ध आइकॉन माना जाता है. लेकिन, कहा ये भी जाता है कि, माउंट रश्मोर एक ज़ब्त की गयी ज़मीन पर बनाया गया है. 1920 के क़रीब लकोटा ट्राइब ने अमेरिकी सरकार पर ज़मीन चुराने का मुक़दमा दायर किया. यह केस कई सालों तक चलता रहा. जिसके बाद 1980 में सुप्रीम कोर्ट ने फ़ैसला सुनाया कि, सरकार ने अवैध रूप से लकोटा से ब्लैक हिल क्षेत्र लिया था. जिसके बाद सरकार को लकोटा ट्राइब को 17.1 मिलियन डॉलर का मुआवज़ा देना पड़ा. 

- अमेरिका में क्रिस्टोफ़र कोलंबस की मूर्तियां (संयुक्त राज्य अमेरिका) 

christophercolumbus
Source: wikipedia

अमेरिका में क्रिस्टोफ़र कोलंबस की मूर्तियां काफ़ी विवाद में रही है. क्रिस्टोफ़र कोलंबस वो व्यक्ति है, जो ग़लत तरीक़े से अमेरिका के ख़ोज के लिए जाने जाते हैं. अमेरिका में आपको क्रिस्टोफ़र की कई मूर्तियां देखने को मिल जाएंगी. हालांकि ऐसी कई मूर्तियां है, जिन्हे समय के साथ तोड़ दिया गया है. जैसे बॉस्टन में क्रिस्टोफ़र की एक मूर्ति का सर तोड़ दिया गया है. साथ ही साथ ऐसी कई जगहों पर "कोलंबस दिवस" के बजाय "विश्व आदिवासी दिवस" मनाया जाता है. (World's Most Controversial Monuments)