दुनिया में बहुत ही कम लोग ऐसे हैं जो निडर होकर अपना काम करना जानते हैं. ऐसे लोग न सिर्फ़ बेबाकी से अपनी बात रखते हैं, बल्कि किसी तरह की सज़ा से भी नहीं डरते. कार्य के प्रति इन्हीं निष्ठावान लोगों में से एक Gerhard Haderer भी हैं. Haderer ऑस्ट्रेलियाई आर्टिस्ट हैं, जो काफ़ी ईमानदारी से अपने Caricatures तैयार करते हैं. Haderer के करियर की शुरुआत विज्ञापन एजेंसियों से हुई थी, जिसके बाद उन्होंने व्यंग्य चित्रण के ज़रिये सामाजिक मुद्दों को उठाना शुरू किया. यही नहीं, उन्होंने 2005 में The Life of Jesus नामक किताब भी लिखी थी, जिसके लिये उन्हें 6 महीने की सज़ा भी मिली थी.

हांलाकि, इसके बाद भी उन्होंने अपना काम जारी रखा और 67 वर्षीय इस आर्टिस्ट ने एक बार फिर से अपनी आर्ट के ज़रिये दुनियाभर की समस्याओं को उजागर किया है.

आइये देखते हैं निडर और टैलेंटड Haderer ने इस बार क्या बनाया है:

1. दूसरों की ज़िंदगी में ताकाझांकी करना ही हमारा काम है.

2. हंसी कहीं गायब है.

3. जीव-जतुंओं की जान जा रही है, पर किसी को फ़्रिक नहीं है.

4. यही करने में फ़ायदा है.

5. हम कहां जा रहे हैं, पता नहीं है.

6. बच्चों की फ़िक्र किसे है!

7. किसानों का बुरा हाल है.

8. हर समय काम में व्यस्त रहते हैं.

9. पैसा-पैसा करते रहते हैं.

10. एक पल भी सुकून नहीं है.

11. मूमेंट एंजॉय नहीं करना है, बस उसे फ़ोन में कैद करना है.

12. समझ रहे हैं न!

13. ये पर्यावरण के लिये जानलेवा है.

14. बस यही ज़िंदगी है.

15. यही हो रहा है.

16. सोचने की बात है.

इस कलाकार की सोच और बेहतरीन कलाकारी के लिये तालियां तो बनती हैं.

Life के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.