पुलिस, नर्स और डॉक्टर ये सभी कोरोना वायरस की जंग से एक योद्धा की तरह लड़ रहे हैं. देश के लिए इन्होंने अपनों को भी छोड़ दिया यहां तक कि अपनी जान की परवाह भी नहीं की. एक वीर योद्धा की तरह देश में आने वाली हर परेशानी से लड़ जाते हैं.

duty first this sikh doctor brothers shaved his beard for covid-19
Source: montrealgazette

अब कनाडा में रहने वाले दो सिख भाइयों ने भी बता दिया कि जहां लोगों की सेवा की बात आएगी तो सिख पीछे नहीं हटेंगे इंसान की जान पर आंच आएगी तो सिख कुछ भी कर जाएंगे. इन्होंने ऐसा ही किया भी.

ये दोनों भाई कनाडा के MUHC में डॉक्टर हैं. संजीत सिंह सलूजा, फ़िजिशियन हैं, तो रंजीत सिंह, न्यूरोसर्जन हैं. कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों के इलाज के लिए मास्क पहनना बहुत ज़रूरी है, लेकिन दाढ़ी की वजह से ये मास्क नहीं पहन पा रहे थे. इसलिए इन दोनों भाइयों ने अपनी दाढ़ी ही कटवा दी. जबकि सिखों में 'केश' और 'सेवा' इनकी आस्था का प्रतीक होती है. इन भाइयों ने 'सेवा' को चुना और देश में कोरोना वारयस पीड़ितों की सेवा के लिए अपनी दाढ़ी क़ुर्बान कर दी.

Montreal Gazette को दिए इंटरव्यू में संजीत सिंह सलूजा ने बताया,

COVID-19 बहुत तेज़ी से फैल रहा है. इसलिए बिना मास्क लगाए काम करना संभव नहीं था. और हम इस सेवा से पीछे भी नहीं हट सकते थे. इसलिए हमने ये कठिन निर्णय लिया. 

रंजीत सिंह सलूजा ने बताया,

हम काम न करने का विकल्प चुन सकते थे. कोरोना पीड़ितों को देखने से मना कर सकते थे लेकिन ये फ़िजिशियन के रूप में ली गयी शपथ और सेवा के सिद्धांतों के ख़िलाफ़ होता. 
duty first this sikh doctor brothers shaved his beard for covid-19
Source: twitter

कनाडा के लोगों के लिए आपने जो किया हम तह-ए-दिल से उसका सम्मान करते हैं. लोगों की सेवा को पूरी शिद्दत से निभाने वाले इन भाइयों को हमारा सलाम करते हैं.

Life से जुड़े आर्टिकल ScoopWhoop हिंदी पर पढ़ें.