दुनिया के बाकि देशों की अपेक्षा भारत में कोरोना के मरीज़ कम हैं और हालात बेहतर हैं. उम्मीद करते हैं कि हम इस लड़ाई में जल्द से जल्द कामयाब होंगे. अब तक हम कोरोना केसेस के बारे में सिर्फ़ पढ़ते और सुनते आये हैं. न जाने कितने ऐसे लोग होंगे, जिनका इनसे सामना नहीं हुआ और यही वजह से की हम इस दर्द को महसूस नहीं कर पा रहे हैं. और हम यही आशा करते हैं कि किसी का भी इस संक्रमण से सामना न हो.

Corona
Source: bhaskarlive

सोचिये उन डॉक्टर्स और नर्स पर क्या बीतती होगी, जब वो अपने सामने किसी मरीज़ को मरते हुए देखते होंगे. हर दिन हर कदम पर उनका ख़्याल रखने के बाद भी उन्हें नहीं बचा पाते. अमेरिका की एक नर्स ने इस दर्द को बंया किया है. Aleixandrea Macias नामक इस नर्स का कहना है कि मैंने अब तक कुछ भी सच पोस्ट नहीं किया, क्योंकि उसके पास कहने के लिये पॉज़िटिव कुछ नहीं था.

Nurse
Source: facebook

नर्स का कहना कि ये वायरस इतना भयानक है जिसकी हम कल्पना भी नहीं कर सकते है. वो ICU में काम कर रही है, क्योंकि हॉस्पिटल में काम करने वाली नर्सों की कमी है. स्टॉफ़ की कमी है, जो लोग हैं भी उन्हें ICU में काम करने का एक्सपीरिंस नहीं है. नर्स का कहना है कि ये वायरस उन लोगों की भी जान ले रहा है, जिन्हें कोई बीमारी नहीं है. जो शारीरिक रूप से स्वस्थ हैं.

ये नौजवानों को भी अपना शिकार बना रहा है. इसके अलावा इनके फ़ोन बजते रहते हैं. इन्हें पता है किसका फ़ोन है, लेकिन ये बात नहीं कर सकते. इसके साथ ही नर्स ने ये भी बताया कि उसने एक नर्स के तौर पर ऐसा पहले कभी फ़ील नहीं किया.

बाकि जानकारी के लिये आप ये पोस्ट पढ़िये:

हिंदुस्तानियों घर पर रहो और प्लीज़ कोरोना को हराने में सबकी मदद करो.

Life के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.