दिल्ली की पटियाला कोर्ट ने बीते मंगलवार को 'निर्भया' गैंग रेप केस के 4 दोषियों के लिए डेथ वॉरंट जारी कर दिया. इस वॉरंट के मुताबिक़, 22 जनवरी, 2020 को सुबह 7 बजे सभी आरोपियों को फांसी दी जायेगी. Bar and Bench की रिपोर्ट के मुताबिक़, ये ऑर्डर, Additional Sessions Judge, सतीश अरोड़ा ने पास किया. रिपोर्ट के अनुसार, तिहाड़ जेल प्रशासन की तरफ़ से यूपी के डीजी को जल्लाद को तैयार रखने के लिये भी कहा गया है.

Pawan
Source: blogspot

कोर्ट के इस फ़ैसले की हर कोई सराहना कर रहा है. फ़ैसले के बाद से ही सोशल मीडिया पर आम जनता और सेलेब्स के ट्वीटस भी सामने आ चुके हैं. वहीं इस बारे में मेरठ के जल्लाद पवन से भी बातचीत की गई. पवन जल्लाद ने कोर्ट के इस फ़ैसले पर ख़ुशी ज़ाहिर की है. पवन का कहना है कि वो पांच बेटियों के पिता हैं. ऐसे में अगर वो उन दरिंदों को फांसी के तख़्ते पर लटकाते हैं, तो उन्हें काफ़ी सुकून मिलेगा. इसके साथ ही उस बेटी के माता-पिता को भी राहत मिलेगी, जिसके साथ इन लोगों ने हैवानियत की भी सारी हदें पार कर दीं थीं.

jallad pawan
Source: patrika

पवन का ये भी कहना है कि इस तरह के गुनाह करने वालों को सिर्फ़ सज़ा-ए-मौत मिलनी चाहिये, ताकि इससे समाज में कड़ा मैसेज जायेगा.

जल्लाद ने और क्या कहा?

जल्लाद पवन ने बताया कि उन्हें निर्भया गैंगरेप के सभी दोषियों को फांसी देने की ख़बर मिल चुकी है. आगे पवन कहते हैं कि अगर उन्हें इस कार्य के लिये बुलाया जाता है, तो वो उन चारों को फांसी देने के लिये तैयार हैं. पवन ने कहा, 'मैं चारों दोषियों को फांसी देने का हैसला रखता हूं.' जैसे ही उन्हें सरकारी आदेश मिलेगा, वो तुरंत दिल्ली के लिये निकल जायेंगे.

जल्लाद पवन का कहना है कि अभी उन्हें किसी भी तरह का मौखिक या लिखित आदेश नहीं मिला है.

किसी को फांसी देते वक़्त, जल्लाद उसके कान में क्या कहता है? ये पढ़ें.

Life के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.