आजकल की भागदौड़ भरी लाइफ़ में कैब, ऑटो और शेयर बाइक हमारी ज़िंदगी का अहम् हिस्सा बन चुकी हैं. इनसे जाने पर हमारे इस महत्वपूर्ण टाइम की बचत होती है, जिससे हमारे कई सारे काम इन्हीं 24 घंटों के अंदर हो जाते हैं. यही वजह है कि मैं भी कैब लेना ज़्यादा सही समझती हूं. मगर एक बात बताऊं जिस कैब को मैं अपनी सेफ़्टी और समय की बचत के लिए लेती हूं. उसी में मेरे साथ आज कुछ अजीब ही हुआ. 

indiatoday

मैं ऑफ़िस आई अपनी सीनियर को बता रही थी कि आज कैब ड्राइवर ने बहुत ही बुरा किया, जिसकी वजह से मैं लेट हुई. दरअसल, कैब बुक करने के बाद ड्राइवर 5 मिनट तो इंतज़ार कर ही लेता है अगर उनसे फ़ोन पर बात कर लो और बता दो कि कुछ देर में आ रही हूं. मुझे लगा ऐसा ही होगा. मगर उसने 5 तो छोड़ो 2 मिनट भी पूरा इंतज़ार नहीं किया और कैंसल कर दी.

officechai

गुस्सा इसलिए आया क्योंकि मैं उसकी कैब के बाहर आ चुकी थी और उसने गुस्से में बोला कि आपने इतनी देर लगा दी इसलिए मैंने कैंसल कर दी. यही बता रही थी तभी मेरी फ़्रेंड ने मुझे अपना अनुभव बताया. उसने आज Uber बाइक बुक की. ड्राइवर ने ट्रैफ़िक वाला रूट लिया तो उसने बोला कि इस रूट पर तो ट्रैफ़िक होगा दूसरे से ले लो. उसने इतनी सी बात पर बाइक रोकी और उसे उतार दिया और बोलता है कि तुम्हारे जैसे लोगों की वजह से दंगे होते हैं. 

इसके बाद तो जैसे सब शुरू ही हो गए. ऐसे ही कुछ अजीब अनुभव आपके सामने पेश कर रही हूं.

मेरी दूसरी फ़्रेंड ने बताया, कैब आने के बाद ड्राइवर ने दरवाज़ा ही नहीं खोला और उसके सामने ही कैब कैंसल करके चला गया.

इतना ही नहीं मेरे एक सहकर्मी कुछ दिन पहले चमोली गए थे, वो दिल्ली के कश्मीरी गेट पर पहुंचे तो वहां से अपने घर का ऑटो ले रहे थे. ऑटोवाले ने ज़्यादा किराया बताया तो उसने बोल दिया कि इससे अच्छा तो कैब कर लेता हूं. इतना सुनते ही ऑटोवाला बोला तुम्हारे जैसे लोग ही मारे जाते हैं.

hindustantimes

इस नफ़रत और गुस्से के बीच कुछ ऐसे भी ड्राइवर्स हैं जो हमें पूरी सुरक्षा के साथ घर पहुंचा रहे हैं. कल ही की बात ले लीजिए मैं दिल्ली में रहती हूं और रात के 1 बजे वसंतकुंज से द्वारका गई थी और दोनों साइड से कैब ड्राइवर्स ने मुझे पूरी सेफ़्टी के साथ घर पहुंचाया. मगर इसका मतलब ये नहीं है कि आप सतर्क न रहें.

वो इसलिए क्योंकि इस दुनिया में अच्छे और बुरे दोनों तरह के लोग हैं और हमें उनसे कैसे बचना और व्यवहार करना है ये हमें तय करना है. 

Life से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.