Jobs To Extinct In Future: आपने कई लोगों से कहते सुना होगा कि 'आने वाला कल किसी ने नहीं देखा है'. हालांकि, आज के बदलते हालातों से थोड़ा बहुत भविष्य का अंदाज़ा लगाया जा सकता है. जिस हिसाब से टेक्नोलॉजी (Technology) दिन-ब-दिन हम पर हावी होती चली जा रही है, उस लिहाज़ से ये कहा जा सकता है कि भविष्य में कुछ नौकरियां ख़तरे में पड़ सकती है. ये भी हो सकता है कि कुछ नौकरियों का आने वाले दशक में वज़ूद ही मिट जाए.

चलिए आज हम आपको उन नौकरियों के बारे में बता देते हैं, जिनकी आने वाले 10 सालों में ग़ायब (Jobs To Extinct In Future) होने की उम्मीद है.

1. अकाउंटेंट्स

टैक्स तैयार करने वालों की नौकरियां ख़तरे में हैं. ज़्यादातर लोग टैक्स एप्स के ज़रिए टैक्स भर देते हैं. यूके में कई वर्कर्स को टैक्स फ़ाइल भी नहीं करना पड़ता, क्योंकि ये उनकी ओर से स्वचालित रूप से कर दिया जाता है. 

accountants
Source: thebalancecareers

2. पोस्टल सर्विस क्लर्क

पोस्टल सर्विस को भी शारीरिक श्रम कहा जाता है और टेक्नोलॉजी के चलते मज़दूरों को काफ़ी प्रतिस्थापन का सामना करना पड़ रहा है. आने वाले समय में ये नौकरी भी पतन का सामना कर सकती है. (Jobs To Extinct In Future)

postal service clerk india
Source: rediff

ये भी पढ़ें: दुनिया के 10 अजीबो-ग़रीब लेकिन यूज़फुल गैजेट्स, जो टेक्नोलॉजी को Next Level पर लेकर जायेंगे

3. ड्राइवर

एक रिपोर्ट के मुताबिक़, 5-10 सालों में कार्स ऑटोमेटिक रूप से चलेंगी. उनको चलाने के लिए किसी ड्राइवर की आवश्यकता नहीं पड़ेगी. कई देश ऐसी कारों की टेस्टिंग भी कर रहे हैं, तो कुछ देशों में ऑटोमेटिक कार्स लॉन्च भी हो चुकी हैं. इसके साथ ही भविष्य में हमें सड़क दुर्घटनाओं, ट्रैफ़िक और ट्रांसपोर्ट में देरी जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिलेगा. 

driver india
Source: news24online

Jobs To Extinct In Future

4. ट्रेवल एजेंट्स

आज का ज़माना ऐसा है कि आप बिना किसी ट्रेवल एजेंट की सहायता से ख़ुद के लिए एयरप्लेन या ट्रेन का टिकट बुक कर सकते हैं. साथ ही इंटरनेट पर तरह-तरह के होटल बुक करने के लिए तमाम वेबसाइट्स हैं. आने वाले सालों में इस सेक्टर पर और प्रभाव पड़ेगा और धीरे-धीरे ट्रेवल एजेंसी में नौकरियां विलुप्त होती चली जाएंगी. (Jobs To Extinct In Future)

travel agents
Source: yourfreecareertest

5. बिल्डर्स

आजकल के समय में 3D टेक्नोलॉजी की मदद से 24 घंटे में बिना ज़्यादा लोगों को शामिल किए एक घर बना पाना मुमकिन है. अगर ऐसा ही चलता रहा, तो वो दिन दूर नहीं जब बिल्डर का प्रोफ़ेशन अतीत की बात हो जाएगी.

builders india
Source: roofandfloor

6. कैफ़े और रेस्तरां में वेटर्स

इस प्रोफ़ेशन पर सबसे ज़्यादा टेक्नोलॉजी की नज़र है. आजकल रोबोट वेटर्स मार्केट में आ गए हैं, जो कितनी भी स्ट्रेसफ़ुल स्थिति में आम कर्मचारियों से बेहतर हैंडल कर सकते हैं. जहां श्रम कटौती की वजह से कई देशों में विरोध चल रहा है, वहीं टेक्नोलॉजी की लहर अपर हैंड पर है. ये हर दिन विकसित हो रही है और आने वाले समय में इस सेक्टर में तेज़ी से बदलाव लाएगी. 

waiters in cafe and restaurants india
Source: dnaindia

ये भी पढ़ें: 90s और 2000 की शुरुआत के वो 8 फ़ोन जिनको आज भी लोग इनके अनोखे डिज़ाइन के लिए याद करते हैं

7. कैशियर

पिछले कुछ सालों में डिजिटल पेमेंट तेज़ी से बढ़ गई है. Phone Pay, Paytm जैसी App's बैंक में कैश ट्रांसफ़र सेकेंड में बिना किसी कैशियर की मदद से कर देती हैं. हालांकि, आज भी समाज का एक वर्ग कैश पर निर्भर है. लेकिन अब डिजिटल पेमेंट के चलते लोगों को हर समय कैश साथ लेकर चलने की ज़रूरत अब ख़त्म हो गई है.

cashier india
Source: india

8. टेक्सटाइल वर्कर

कपड़ा उद्योग में कर्मचारियों की घटती संख्या उत्पादों की मांग में कमी के कारण नहीं है, बल्कि जिस तरह से वो बनते हैं उस वजह से है.चूंकि मशीनें आजकल काफ़ी सारे मैन्यूफैक्चरिंग और प्रोडक्शन के काम कर रही हैं, इसलिए टेक्सटाइल वर्कर्स के लिए काफ़ी कम अवसर बचे हैं. आने वाले सालों में ये सेक्टर पूरा मशीनों पर ही निर्भर हो जाएगा.

textile worker india
Source: textilevaluechain

9. प्रिंट मीडिया

आज के डिजिटल युग में ऐसे बहुत कम लोग ही बचे हैं, जो अखबार पढ़ते हैं. ज़्यादातर लोगों को सारी जानकारी अपने फ़ोन या किसी डिजिटल मीडिया वेबसाइट से ही मिल जाती है. इसलिए उन्हें अख़बार पढ़ने की आवश्यकता ही नहीं होती. प्रिंट मीडिया अपने बिज़नेस में वैसे ही पतन की ओर बढ़ रही है. बची-कुची कसर आने वाले साल पूरी कर देंगे. 

newspaper print
Source: printnewspaper

10. अंपायर

अगर आपको स्पोर्ट्स में दिलचस्पी है, तो कभी भी रेफ़री या अंपायर बनने के बारे में मत सोचना. ऐसा इसलिए क्योंकि शायद भविष्य में आपकी सर्विसेज़ की ज़रूरत ही न पड़े. ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी की एक स्टडी के मुताबिक, कंप्यूटराइज़ेशन की वजह से स्पोर्ट्स रेफ़री या अंपायर की नौकरी भी ख़तरे में है.

umpire
Source: nbcnews

इन जॉब की शामत आने वाली है.