34 वर्षीय सना मारिन (Sanna Marin) को फ़िनलैंड की प्रधानमंत्री चुना गया है, वो सबसे युवा प्रधानमंत्री हैं. सना मारिन मौजूदा सरकार में परिवहन मंत्री हैं. इसी हफ़्ते वो इस पद से इस्तीफ़ा देने के बाद प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगी. सना सेंटर-लेफ़्ट गठबंधन का नेतृत्व करेंगी और वो पांच अन्य पार्टियों के साथ मिलकर सरकार चलाएंगी, इन सभी पार्टियों की प्रमुख महिलाएं हैं. सना फ़िनलैंड की तीसरी महिला प्रधानमंत्री होंगी.

finland sanna marin
Source: indiatoday

सना को रविवार को हुए मतदान में सत्ताधारी सोशल डेमोक्रैटिक पार्टी काउंसिल ने प्रधानमंत्री एंटी रिने (Antti Rinne) के इस्तीफ़ा देने के बाद चुना है. Antti Rinne डाक हड़ताल के मुद्दे को सुलझाने में विफ़ल रहे जिसके चलते उन्होंने गठबंधन सहयोगी सेंटर पार्टी से मंगलवार (3 दिसंबर) को इस्तीफ़ा दिया था.

finland sanna marin
Source: vox

प्रधानमंत्री बनने के बाद सना ने अपनी उम्र से जुड़े सवालों और लोगों के खोए हुए विश्वास पर कहा,

हमें लोगों का विश्वास जीतने के लिए काफ़ी काम करना होगा. मुझे इस बात से फ़र्क़ नहीं पड़ता कि मेरी उम्र क्या है? न ही मैंने अपनी उम्र के बारे में सोचा है. राजनीति में आने के पीछे मेरा जो मक़सद उसे मैं पूरा करूंगी.
finland sanna marin
Source: net

आपको बता दें सना ने प्रशासनिक विज्ञान में ग्रेजुएशन की डिग्री ली है. सना मैरिड हैं और एक बच्चे हैं. सना की परवरिश से जुड़ी ख़ास बात ये है कि उनकी परवरिश समलैंगिक पैरंट्स ने की है. वो अपनी सफ़लता और अपने व्यक्तित्व का सारा श्रेय अपने पेरेट्स को देती हैं.

ग़ौरतलब है कि सना मारिन इस वक़्त की सबसे युवा प्रधानमंत्री हैं. न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न 39 साल की हैं जबकि यूक्रेन के ओलिंस्की होन्चारुक 35 साल के हैं. नॉर्थ कोरिया के किम जोंग भी 35 साल के हैं.

News से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.