कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं और ऐसे में यूपी के गौतम बुद्ध नगर से चौंकाने वाली ख़बर आई है. रिपोर्ट के मुताबिक, एक प्राइवेट लैब द्वारा ग़लत रिपोर्ट जारी की गई. ग़लत रिपोर्ट की वजह से उन 35 लोगों को 3 दिनों तक आइसोलेशन वार्ड में रखा गया, जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी. 

Covid19
Source: sciencemag

इन लोगों को हल्का सर्दी-ज़ुकाम था और डॉक्टर से परामर्श करने के बाद उनके नमूने जांच के लिये प्राइवेट लैब में भेजे गये. लैब से रिपोर्ट पॉज़िटिव मिलने के बाद उन्हें सरकारी आइसोलेशन वॉर्ड में रख दिया गया. हांलाकि, दोबारा उनके सैंपल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ वायरोलॉजी में भेजे गए, जहां से उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई. 

covid19
Source: kashmirobserver

रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद इन सभी लोगों को डिस्चार्ज़ कर दिया गया है. पर चूंकि वो तीन दिन तक कोरोना मरीज़ों के साथ थे. इसलिये उन्हें अभी निगरानी में रखा गया है. बताया जा रहा है कि लैब के कर्मचारियों द्वारा सैंपल को सही तापमान में न रखने की वजह से रिपोर्ट ग़लत आई. इसके साथ ही ये लैब इंडियन काउंसिल ऑफ़ मेडिकल रिसर्च (ICMR) द्वारा रज़िस्टर नहीं थी. 

उम्मीद है कि इस भारी लापरवाही के लिये सरकार द्वारा कड़ी कार्यवाही की जाएगी. 

News के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.