अब तक आपने हीर-रांझा और लैला-मजनू की मोहब्बत की मिसाल देते हुए आपने कई बार लोगों को सुना होगा. अब सात-समुंदर पार की एक प्रेम कहानी सुनिए. वो प्रेम कहानी जिसमें दुल्हन चीन की और दूल्हा हिंदुस्तान का है. जैसा कि हम सब जानते हैं कि इस समय चीन में कोरोना वायरस का कहर बरपा हुआ है. पर दोनों इन सब बातों की परवाह न करते हुए शादी के बंधन में बंध गए.

Coronavirus
Source: bbc

रिपोर्ट के अनुसार, बीते रविवार मध्यप्रदेश के मंदसौर में चीन की जी हाओ और सत्यार्थ मिश्रा की धूमधाम से शादी हुई. दोनों की मुलाकात कनाडा में हुई थी. इसके बाद दोनों एक-दूसरे को डेट करने लगे और फिर शादी करने का फ़ैसला लिया. जी हाओ और सत्यार्थ मिश्रा की शादी परिवार की रज़ामंदी से हुई है. जी हाओ अपने पूरे परिवार के साथ हिंदुस्तान आईं और बड़ों के आर्शीवाद से नये जीवन की शुरुआत की.

indian groom
Source: HT

कैसे हुई प्यार की शुरुआत?

दरअसल, सत्यार्थ मॉस कम्यूनिकेशन की स्टडी करने के लिये शेरिडन यूनिवर्सिटी, कनाडा गया था. वहीं चीन के डिजियोंग शहर की रहने वाली जी हाओ भी उसी कॉलेज में पढ़ने आई थीं. इस दौरान सत्यार्थ ने जी हाओ की भाषा पर भी काम किया, जिसके बाद दोनों की नज़दीकियां बढ़ती गईं. एक ओर जहां पढ़ाई ख़त्म होने पर सत्यार्थ कनाडा में सेटल हो गये, तो वहीं जी हाओ बतौर मेकअप आर्टिस्ट काम कर रही हैं.

rituals
Source: economictimes

हांलाकि, शादी से पहले मंदसौर ज़िला अस्पताल के सिविल सर्ज़न एके मिश्रा की टीम द्वारा जी हाओ के परिवार के सदस्यों की जांच की गई, लेकिन उनमें कोरोना वायरस का कोई भी लक्षण नहीं पाया गया. वहीं सत्यार्थ का कहना है कि उनकी पत्नी के चार रिश्तेदार शादी में इसलिये शामिल नहीं हो पाये, क्योंकि कोरोना के प्रकोप के कारण उन्हें वीज़ा नहीं मिल सका.

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.