कुछ हो न हो, लेकिन कोरोना जाते-जाते हमें इंसानियत ज़रूर सिखा कर जायेगा. मुश्किल की इस घड़ी में हर कोई एक-दूसरे की मदद कर रहा है. इंसान सिर्फ़ इंसान की ही नहीं, बल्कि बेज़ुबान जानवरों की भी मदद कर रहे हैं.

ऐसी ही एक ख़बर नागपुर से भी आई है. महाराष्ट्र की 2 बहनों काजल और दिशा ने स्ट्रीट डॉग्स को खाना खिला कर उनका पेट भरा. इनमें से एक बहन ने ANI से बात करते हुए कहा कि सभी भोजनालय बंद हैं और लोग बाहर निकल रहे हैं. कुत्तों को भोजन मिलना मुश्किल हो रहा है और ऐसे में हमारा फ़र्ज़ बनता है कि हम उन्हें खाना खिलायें.

सच में हम लोग तो जैसे-तैसे अपना पेट भर लेंगे, लेकिन बेचारे बेसहारा जानवरों का क्या? अगर हो सके तो आप लोग अपने घर के बाहर घूम रहे जानवरों को खाना खिला कर उनकी मदद करें.

यही इंसानियत है.

Lifeके और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.