देश को कोरोना संकट से बचाने के लिये हर देशवासी अपनी ओर से कुछ न कुछ मदद कर रहा है. इसी क्रम में दिल्ली के एक मां-बेटे की जोड़ी भी आगे आई है. 24 वर्षीय युवा और उसकी मां मास्क बना कर ग़रीबों में वितरित कर रहे हैं. 

Delhi Women
Source: mathrubhumi

क़िस्सा साउथ दिल्ली का है. सिनेमैटोग्राफ़र सौरव दास ने अपनी मां लक्ष्मी के साथ मिलकर ग़रीबों की मदद का निर्णय लिया. लक्ष्मी एक हाउस वाइफ़ हैं और वो घर पर ख़ुद से ही मास्क बना रही हैं. मां-बेटे की जोड़ी अब तक 2 हज़ार से ज़्यादा मास्क बना कर ग़रीबों में बांट चुकी हैं. मां-बेटे ने इस पहल को 'Pick One, Stay Safe' पिक वन, स्टे सेफ़' टैग लाइन भी दी है. 

delhi boy
Source: mathrubhumi

सौरव दास का कहना है कि ये मास्क कॉटन के बने हुए हैं और इन्हें धो कर दोबारा यूज़ किया जा सकता है. दास मां द्वारा बनाये गए मास्क को बॉक्स में पैक करके चार-पांच बॉक्स को बाज़ार में रख देते हैं. दास कहते हैं कि बॉक्स से मास्क को बिना टच किये निकाला जा सकता है. ये मास्क सौरव दास ने ख़ुद डिज़ाइन किया है और इसके लिये ज़रूरतमंदों को एक पैसा भी खर्च नहीं करना है. 

लक्ष्मी अपने फ़्री समय में मास्क बनाती हैं और इसके लिये कपड़ा दास के चाचा देते हैं. वाकई ये छोटे-छोटे प्रयास ही हमें इस संकट से बाहर उभारेंगे. 

News के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.