जल ही जीवन है! मगर कुछ लोग इस बात को गंभीर रूप से नहीं लेते हैं और पानी की बर्बादी दोनों हाथों से करते हैं. ऐसे लोगों को ही सबक सिखाने के लिए उत्तर प्रदेश में गाज़ियाबाद के कलेक्टर अजय शंकर पांडेय ने एक बहुत चौंकाने वाला काम किया है. उन्होंने पानी की बर्बादी रोकने के लिए सिर्फ़ अपने कर्मचारियों पर ही नहीं ख़ुद पर भी 10 हज़ार रुपए का जुर्माना लगाया है. 

overflow water
Source: shutterstock

विभाग के निजी सहायक ने बताया,

कलेक्टर ऑफ़िस में लगी पानी की टंकी ओवरफ़्लो हो रही थी, तभी वो विभाग में पहुंच गए और पानी की बर्बादी देखकर कलेक्टर ने ये कदम उठाया है. साथ ही उन्होंने सभी अधिकारियों को चेतावनी देते हुए दुबारा पानी की बर्बादी न करने का आदेश भी दिया है. 
ajay shankar pandey
Source: democraticaccent

कलेक्टर ने इस ग़लती को सबकी ग़लती मानते हुए 30 अधिकारियों से 100-100 रुपए और 100 कर्मचारियों से 70-70 रुपए लेकर 10 हज़ार इकट्ठा किए है. इस राशि को उन्होंने जल संरक्षण विभाग में जमा कराया. अजय शंकर पांडेय बहुत अनुशासित और स्वच्छता पसंद करने वाले अधिकारी हैं.

News पढ़ने के लिए ScoopwhoopHindi पर क्लिक करें.