लॉकडाउन खुलने के बाद क्या-क्या करना है उसकी लिस्ट तो बना ली होगी? इसमें सबसे ऊपर होगा ट्रैवलिंग क्योंकि घर में बंद रह-रह कर जी तो ऊब गया होगा. मगर आपके लिए एक दुखभरी ख़बर लाए हैं. अगर आपने अपनी लिस्ट में गोवा को शामिल किया है तो अभी डिलीट कर दीजिए. नहीं तो, लॉकडाउन खुलने के बाद गोवा जाने का सपना टूटेगा तो दुख होगा. 

दरअसल, गोवा सरकार अब अपनी टूरिज़्म पॉलिसी में कुछ बदलाव कर रही है. इसके तहत गोवा में सिर्फ़ अमीरों को एंट्री मिलेगी. 

Goa To Open Only For ‘Wealthy’ Tourists
Source: holidify

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत का कहना है,

राज्य सरकार अब केवल अमीर टूरिस्टों को ही आने की इजाज़त देगी. हम गोवा में भीड़ नहीं बढ़ाना चाहते. राज्य अब किफ़ायती और कम बजट वाले टूरिस्टों से दूर ही रहेगा. 

The Times of India के अनुसार, 'टूरिज़्म मिनिस्टर मनोहर अजगांवकर ने The Statesman को बताया,

हमें अपने पर्यटन को फिर से शुरू करने के लिए गोवा को फिर से 1960 वाला गोवा बनाना होगा। 1960 का गोवा बहुत ख़ूबसूरत था और अब 2020 में 8 मिलियन से अधिक पर्यटकों के साथ ये अलग लगता है

उन्होंने आगे कहा,

हम विशेषज्ञों के साथ मिलकर नई पॉलिसी बनाने की तैयारी कर रहे हैं. गोवा को 1960 के दशक में वापस ले जाना है. इसलिए हम नहीं चाहते हैं कि नशीले पदार्थों का सेवन करने वाले, सड़कों पर खाना बनाने वाले और समुद्र तटों पर शोरगुल करने वाले पर्यटकों को यहां एंट्री दी जाए. हम अमीर पर्यटकों को एंट्री देंगे, जो गोवा की संस्कृति को समझें और इसकी ख़ूबसूरती को बरकरार रखें. 
Goa To Open Only For ‘Wealthy’ Tourists
Source: yatrablog

हमें शून्य से शुरुआत करनी होगी. वर्तमान में हम शून्य वाले चरण में हैं. जब तक राज्य-से-राज्य स्तर की यात्रा हो जाती है, तब तक हम कुछ नहीं कर सकते. ऐसा तभी संभव है जब वैक्सीन का आविष्कार कर लिया जाए या इलाज मिल जाए, तब गोवा में पर्यटन शुरू हो जाएगा.

इस न्यूज़ की भनक लगते ही, देसी और मिडिल क्लास लोगों ने ट्विटर पर अपनी भड़ास निकाल दी.

News पढ़ने के लिए ScoopWhoop हिंदी पर क्लिक करें.