प्लास्टिक का इस्तेमाल दुनियाभर के लिये एक गंभीर समस्या बना हुआ है. प्लास्टिक से उपज रही समस्याओं को देखते हुए, इसे इस्तेमाल न करने की सलाह भी दी जा रही है. हम भले ही इस बात की गंभीरता को न समझ रहे हों, पर भारतीय सेना ने इससे निपटने का एक बेहतरीन आईडिया निकाला है.

दरअसल, गुवाहाटी में इंडियन आर्मी की मिलिट्री इंजीनियर सर्विसेज़ ने नारंगी मिलिट्री स्टेशन में प्लास्टिक कचरे से सड़क का निर्माण कर दिखाया है. प्लास्टिक कचरे से बनी इस सड़क को देख कर, हर कोई इंडियन आर्मी की तारीफ़ कर रहा है. ये एक पायलट प्रोजेक्ट है, जिसके तहत लगभग 1.24 MT प्लास्टिक वेस्ट को यूज़ में लाया गया है.

Plastic waste road

बीते 22 नवंबर को पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर अपने भाषण में कहा था कि देश के 60 प्रमुख शहरों से हर रोज़ करीब 4,059 टन प्लास्टिक कचरा निकलता है. इस समस्या से छुटकारा पाने के लिये शोधकर्ता और वैज्ञानिक रिसर्च पर भी लगे हुए हैं, ताकि जल्द से जल्द से इससे निपटा जा सके.

Plastic waste road

हाल ही में एक रिपोर्ट में ये भी कहा गया था कि हिंदुस्तान दुनिया का 15वां सबसे अधिक प्लास्टिक वेस्ट उत्पादन करने वाला देश है. भारत में हर रोज़ लगभग 25,940 टन प्लास्टिक कचरा प्रोड्यूस होता है.

Plastic
Source: dw

इंडियन आर्मी ने तो अपना काम कर दिया, लेकिन हम प्लास्टिक का इस्तेमाल करना कब बंद करेंगे?

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.