आर्म्ड फ़ोर्सेज़ मेडिकल कॉलेज पुणे की पूर्व डीन मेजर जनरल माधुरी कानितकर ने शानिवार को लेफ़्टिनेंट जनरल के पद की कमान संभाली. वो भारतीय सेना की तीसरी महिला अधिकारी और पहली महिला बाल रोग विशेषज्ञ हैं, जिन्हें फ़ोर्स में दूसरा सबसे बड़ा पद हासिल करने का गौरव मिला है.

मेजर जनरल माधुरी कानितकर ने नई दिल्ली में डिप्टी चीफ़ इंटीग्रेटेड डिफ़ेंस स्टाफ़ (DCIDS), मेडिकल (चीफ़ ऑफ़ डिफ़ेंस स्टाफ़ के तहत) का कार्यभार संभाला.

Maj Gen Madhuri Kanitkar

इस पद के तहत माधुरी को संयुक्त योजना और एकीकरण के माध्यम से सेवाओं की खरीद, प्रशिक्षण और संचालन में अधिक तालमेल के लिए आवंटित बजट के उचित उपयोग को तय करने की ज़िम्मेदारी निभानी होगी.

Maj Gen Madhuri Kanitkar

आपको बता दें, सेना के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब पति और पत्नी दोनों ही सेना में लेफ़्टिनेंट जनरल रहे हों. माधुरी के पति राजीव कानितकर भी लेफ़्टिनेंट जनरल रहे हैं. माधुरी पिछले 37 सालों से सेना में कार्यरत हैं.

ग़ौरतलब है कि, सर्जन वाइस-एडमिरल और भारतीय नौसेना और भारतीय सेना की पूर्व 3-स्टार फ़्लैग ऑफ़िसर, पुनीता अरोड़ा लेफ़्टिनेंट जनरल के पद को संभालने वाली पहली महिला थीं. इनके बाद भारतीय वायु सेना की महिला एयर मार्शल, पद्मावती बंदोपाध्याय इस पद को संभालने वाली दूसरी महिला थीं.

Women से जुड़े आर्टिकल ScoopwhoopHindi पर पढ़ें.