नागरिकता संशोधन क़ानून (CAA) को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शनों ने ज़ोर पकड़ लिया है. उत्तर भारत से शुरू हुआ ये विरोध अब पूरे देश में फैल गया है. आम जनता से लेकर सेलेब्स तक नागरिकता संशोधन क़ानून पर विरोध जता रहे हैं. कुछ समय पहले ही अभिनेता सुशांत सिंह को नागरिकता संशोधन क़ानून के विरोध में बोलने पर टीवी शो 'सावधान इंडिया' से हटा दिया गया.

CAA
Source: indiatoday

इस बात का ख़ुलासा उन्होंने ख़ुद एक ट्वीट के ज़रिये किया था. वहीं अब अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है. रिपोर्ट के अनुसार, परिणीति अब 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' अभियान की ब्रांड एंबेसेडर नहीं हैं. परिणीति ने नागरिकता संशोधन क़ानून के विरोध में एक ट्वीट किया था, जिसके बाद हरियाणा सरकार ने उन्हें ब्रांड एंबेसेडर के रोल से हटाने का फ़ैसला लिया.

parineeti
Source: indiatimes

अभियान के सलाहकार योगेंद्र मलिक का कहना है कि 2015 में कुछ समय के लिये परिणीति को इस अभियान का एंबेसेडर बनाया गया था, पर अब हरियाणा की बेटियां ही ब्रांड एंबेसेडर होंगी. फिलहाल इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि उन्हें इस पद से कब हटाया गया है.

पहले सुशांत सिंह और अब परिणीति चोपड़ा, क्या सच में हम आज़ाद भारत का हिस्सा हैं?

News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.