ईद पर दो पुलिस कर्मियों की ली गई फ़ोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में देश की गंगा-जमुनी तहज़ीब की झलक साफ़ दिखाई दे रही है. इसमें यूपी पुलिस के दो कर्मचारी हैं, जिनमें से एक नमाज़ पढ़ रहा है तो दूसरा हाथ जोड़ कर प्रार्थना करता दिखाई दे रहा है.

सांप्रदायिक सद्भभाव की मिसाल पेश करती ये तस्वीर यूपी के अमरोहा ज़िले की है. यहां पर हसनपुर थाने में कॉन्स्टेबल असगर ख़ान और S.H.O. आर.पी. शर्मा तैनात हैं. ईद के मौक़े पर अमरोहा प्रशासन ने सभी लोगों को घर में रह कर ही नमाज़ अदा करने की अपील की थी.

UP Cops prayers display communal harmony
Source: patrika

इस बीच ज़िले के ईदगाह मैदान में भी लॉकडाउन का पालन हो सके इसलिए ये दोनों पुलिस कर्मी वहां मौजूद थे. जब नमाज़ का वक़्त हुआ तब कॉन्स्टेबल असगर ख़ान भी वहीं नमाज़ अदा करने लगे. उन्हें देख कर पास ही में खड़े आर.पी. शर्मा जी भी हाथ जोड़ कर ईश्वर से प्रार्थना करने से ख़ुद को रोक नहीं पाए.

दोनों की तस्वीर किसी ने खींच कर सोशल मीडिया पर शेयर कर दी, जो देखते ही देखते वायरल हो गई. शर्मा जी ने बताया- 'असगर को नमाज़ पढ़ते देख मेरे अंदर भी सकारात्मक ऊर्जा का संचार हुआ. मैंने भी हाथ जोड़े और ईश्वर से सबको इस संकट से बचाने की प्रार्थना की. तभी किसी ने ये तस्वीर क्लिक की होगी.'

UP Cops prayers display communal harmony
Source: hindustantimes

शर्मा जी ने बताया कि असगर एक अच्छे इंसान हैं. वो उन्हें भाई की तरह मानते हैं. उन्हें हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र भी याद है. वो पांच वक़्त की नमाज़ पढ़ते हैं और रोज़े भी रखते हैं. दोनों ने साथ प्रार्थना की इससे उन्हें बहुत ख़शी मिली.

वहीं असगर कहते हैं- 'साहब सबके लिए प्रेरणा स्रोत हैं. वो सबका मार्गदर्शन करते हैं. उस दिन जब मैं नमाज़ पढ़ रहा था तब न जाने उन्हें क्या हुआ वो भी भक्ति में लीन हो गए.'

UP Cops prayers display communal harmony
Source: hindustantimes

असगर अलीगढ़ के गवलरा गांव के रहने वाले हैं. उनका कहना है कि उनके गांव में सभी हिंदु-मुस्लिम एक साथ मिलकर रहते हैं. जब भी कोई काम-काज होता है सभी एक दूसरे का हाथ बंटाते हैं. असगर जी मानते हैं कि ख़ुदा और राम दोनों ईश्वर के ही रूप हैं. बस उनके नाम अलग-अलग हैं. उनका कहना है कि अमरोहा ज़िले में भी एस.एच.ओ. शर्मा जी लोगों को एक जुट रखने की कोशिश करते रहते हैं. वो सभी धर्म के लोगों को एक साथ रहने के लिए प्रेरित करते रहते हैं.

असगर और शर्मा जी जैसे लोग ही देश की गंगा-जमुनी तहज़ीब को बचाने के काम में लगे हुए हैं. इनकी जितनी तारीफ़ की जाए कम है.
News के और आर्टिकल पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.