हौसला हो तो ज़िंदगी अधूरी होते हुए भी पूरी की जा सकती है. इसकी जीत- जागती मिसाल है कम्बोडिया के आर्टिस्ट मॉर्न चियर (Morn Chear). 20 साल की उम्र में निर्माण कार्य के दौरान एक दुर्घटना में इनके दोनों हाथों में गैंग्रीन हो गया. इसके चलते डॉक्टर की सलाह के अनुसार, इनके कोहनी से नीचे के हाथों को काटना पड़ा, लेकिन आज वो अपनी हिम्मत के दम पर एक बेहतरीन आर्टिस्ट हैं.

this cambodian artist who lives for art.
Source: yahoo

Morn Chear ने AFP को बताया,

जब मेरे साथ ये दुर्घटना हुई थी तब मैं बहुत उदास हो गया था, मुझे नहीं पता था कि मैं अपने परिवार को खिलाने के लिए पैसे कैसे कमाऊंगा और क्या करूंगा.

मगर दस साल बाद, Morn Chear ने Siem Reap में स्थित एक आर्ट स्टूडियो में अपनी जगह बनाई. जहां वो लिनोकट ब्लॉक प्रिंटिंग करते हैं और इसमें उन्हें महारथ हासिल है. कंबोडिया में ये तकनीक बहुत ही कम इस्तेमाल होती है.

this cambodian artist who lives for art.
Source: oudtshoorncourant

लिनोकट ब्लॉक प्रिंटिंग (Linocut Block Printing) के लिए लिनोलियम के एक ब्लॉक में डेफ़्ट हैंडल की आवश्यकता होती है और फिर प्रिंट टॉटर पर स्याही लगाकर इस पेंटिंग को बनाया जाता है.

मॉर्न ने बताया,

मेरी कलाकृति में से अधिकांश मेरी वास्तविक कहानियों के बारे में हैं. एक आकृति में उन्होंने ख़ुद को झूले पर बैठे दिखाया और आस-पास के लोगों को शिवालय की ओर जाते हुए.
this cambodian artist who lives for art.
Source: phnompenhpost

ओपन स्टूडियो कंबोडिया ऐसे कई आर्टिस्ट को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौक़ा देता है और उनकी कलालकृति को बेचने का अवसर देता है. ये स्टूडियो अंगकोर वाट मंदिर परिसर के लिए प्रसिद्ध है.

Morn Chear ने अपने दोस्तों की एक घटना को याद करते हुए बताया,

एक बार उन्होंने कहा था कि उसे हमारे साथ आने के लिए मत कहो, वो विकलांग है और ये बहुत ही शर्मनाक बात है.

कम्बोडियन डिसेबल्ड पीपुल्स ऑर्गेनाइजेशन द्वारा पिछले साल एक सर्वेक्षण में पाया गया कि देश के 60 प्रतिशत विकलांग गरीबी रेखा से नीचे रहते हैं.

this cambodian artist who lives for art.
Source: phnompenhpost

कम्बोडिया में विकलांगों के लिए भेदभाव की भावना रखी जाती है. उन्हें भिखारी या बोझ के रूप देखा जाता है. इसके चलते उन्हें ग्रामीणों द्वारा 'ए-कंबोट' (A-Kambot) उपनाम दिया गया था, जो विकलांगों के लिए अपमानजनक शब्द होता है.

Morn Chear ने बताया,

जो लोग पहले मुझे हीन भावना से देखते थे आज मेरी आर्ट के चलते फिर से मेरे दोस्त बनना चाहते हैं. मुझे आशा है कि लोगों की सोच इसी तरह से बदलेगी.  
this cambodian artist who lives for art.

आखिर में वो कहते हैं,

आर्ट मेरे लिए सबकुछ है. अगर मैं आर्ट नहीं करूंगा तो मुझे नहीं पता कि मैं क्या कर सकता हूं.

Life से जुड़े आर्टिकल ScoopWhoop हिंदी पर पढ़ें.