कई राज्यों के बोर्ड एग्ज़ाम के नतीजे घोषित किये जा रहे हैं. अब तक के नतीजो के हिसाब से हर राज्य में लड़कियां टॉप करके अपनी शक्ति का प्रदर्शन कर रही हैं. इस बार ये अनोखा कारनामा एक आदिवासी लड़की ने किया है. दसवीं की बोर्ड परीक्षा में 95 प्रतिशत अंक लाने वाली सी श्रीदेवी की लोग ख़ूब तारीफ़ कर रहे हैं. अच्छी बात ये है कि श्रीदेवी की इस सफ़लता का श्रेय केरल सरकार को भी जाता है. 

sreedevi
Source: shethepeople

राज्य सरकार द्वारा ही श्रीदेवी के लिये तमिलनाडु केरल-सीमा से स्कूल जाने के लिये एक वाहन का इंतज़ाम किया गया था. दरअसल, लॉकडाउन के बाद वो अपने घर को लौट गई थी. अगर उसे वाहन नहीं मिलता, तो शायद वो बची हुई परीक्षाओं में नहीं बैठ पाती. 16 वर्षीय श्रीदेवी के लिये अन्नामलाई टाइगर रिज़र्व में आदिवासी बस्ती में रहकर ये कामयाबी हासिल करना आसान नहीं रहा होगा. इसी के साथ वो ऐसा काम करने वाली अपने समुदाय की पहली लड़की बन गई है. 

kerala
Source: indiatimes

वो चैलकुडी के नयारनगडी मॉडल आवासीय विद्यालय की छात्रा है. श्रीदेवी तिरुपुर ज़िले के अन्नामलाई टाइगर रिज़र्व के उदुमलपेट रेंज में Poochukottamparai आदिवासी बस्ती में रहती हैं. ये एक ऐसी बस्ती है, जहां लोग कठिनाई भरा दैनिक जीवन बिता रहे हैं. श्रीदेवी का कहना है कि उसके लिये यकीन कर पाना मुश्किल है कि उसने 95 प्रतिशत से ज़्यादा अंक हासिल किये हैं. उसके पिता Chellamuthu एक किसान हैं और उन्हें अपनी बेटी की सफ़लता पर गर्व है. वो आगे भी श्रीदेवी की पढ़ाई जारी रखेंगे. 

जिस बस्ती के लोग बिना बिजली और फ़ोन नेटवर्क के बिना जीवन गुज़ार रहे हैं. वहां की बच्ची इतने अच्छे नबंर लाकर सबके लिये प्रेरणा बन गई है. 

News के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिये ScoopWhoop Hindi पर क्लिक करें.