वाकई अपना घर अपना घर होता है, अपने घर जैसा कम्फ़र्ट कहीं नहीं मिलता. इस बात पर इंसान ही नहीं, बल्कि जीव-जन्तु भी अमल करते हैं. अब 180 किलो के इस योशी नाम के कछुए को ही देख लीजिए. अपना घर ढूंढने के लिए योशी 37000 किलोमीटर तक चली गई. इतना ही नहीं ऐसा कर योशी इंटरनेट स्टार भी बन गई है. इस बात की जानकारी IFS अधिकारी प्रवीण कासवान ने एक पोस्ट शेयर कर दी.

पोस्ट में लिखा,

इस कछुए का नाम योशी है और इसने अपने घर को ढूंढने के लिए अफ़्रीका से ऑस्ट्रेलिया की 37000 किलोमीटर की दूरी तय की है. ताकि वो अपनी उस जगह का पता लगा सके जहां उसने अंडे दिए थे.

आगे लिखा,

घायल होने की वजह से योशी को 20 साल के लिए बंदी बना लिया गया था. बाद में प्रशिक्षकों ने उसका सही इलाज कर उसे स्वस्थ कर दिया. एक सैटेलाइट टैग लगाकर उसे रिहा किया गया ताकि उसकी निगरानी की जा सकी. वो जहां जा रही थी वहां वो कई बार जा चुकी है, वो था उसका घर.

योशी का घर प्रेम देखकर लोग इसकी तारीफ़ करते नहीं थक रहे हैं. लोगों का कहना है कि 'प्रकृति और उसके रहस्यों को समझना बहुत मुश्किल है.' लोगों के ट्वीट आप पढ़ सकते हैं.

News पढ़ने के लिए ScoopwhoopHindi पर क्लिक करें.